PM मोदी ने जर्मनी में दक्षिणी अफ्रीकी राष्ट्रपति रामफोसा से की मुलाकात, द्विपक्षीय संबंधों पर हुई चर्चा

PM Modi
प्रतिरूप फोटो
Twitter
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘जर्मनी में राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा से मिलकर खुशी हुई। हमारी वार्ता में आर्थिक सहयोग, संपर्क में सुधार, खाद्य प्रसंस्करण और वित्तीय प्रौद्योगिकी (फिनटेक) में संबंधों को प्रगाढ़ बनाने सहित विविध क्षेत्रों को शामिल किया गया।’’

एल्माउ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों में हुई प्रगति की समीक्षा की और व्यापार एवं निवेश, खाद्य सुरक्षा, रक्षा, फार्मास्यूटिकल्स और डिजिटल वित्तीय समावेशन जैसे क्षेत्रों में सहयोग को और प्रगाढ़ बनाने की प्रतिबद्धता जताई। जी-7 शिखर सम्मेलन के लिए रविवार से दो दिवसीय दौरे पर जर्मनी आए प्रधानमंत्री मोदी ने दक्षिणी जर्मनी के श्लॉस एल्माउ में सम्मेलन के इतर रामफोसा से मुलाकात की। 

इसे भी पढ़ें: जर्मनी में G7 शिखर सम्मेलन में बाइडेन, मैक्रों और ट्रूडो से कुछ इस अंदाज में मिले PM मोदी

मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘जर्मनी में राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा से मिलकर खुशी हुई। हमारी वार्ता में आर्थिक सहयोग, संपर्क में सुधार, खाद्य प्रसंस्करण और वित्तीय प्रौद्योगिकी (फिनटेक) में संबंधों को प्रगाढ़ बनाने सहित विविध क्षेत्रों को शामिल किया गया।’’ विदेश मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि दोनों नेताओं ने दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों में हुई प्रगति की समीक्षा की। इसमें कहा गया है कि दोनों नेताओं ने रक्षा, शिक्षा और कृषि क्षेत्रों में हुई प्रगति पर संतोष व्यक्त किया और व्यापार एवं निवेश, खाद्य सुरक्षा, रक्षा, फार्मास्यूटिकल्स, डिजिटल वित्तीय समावेशन, कौशल विकास, बीमा, स्वास्थ्य जैसे क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग को और प्रगाढ़ बनाने की आवश्यकता को दोहराया। विज्ञप्ति में कहा गया है कि दोनों नेताओं ने जून 2022 में विश्व व्यापार संगठन के समझौते का भी स्वागत किया, जो विकासशील देशों में कोविड-19 टीकों के उत्पादन का समर्थन करता है।

दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, ‘‘जी7 के मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की और हमने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अपने दोनों देशों के बीच सहयोग पर चर्चा की। विज्ञप्ति में कहा गया है कि मोदी और रामफोसा ने बहुपक्षीय निकायों में निरंतर समन्वय और उनके सुधार की आवश्यकता, विशेष रूप से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद पर भी चर्चा की। प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्विटर पर कहा, ‘‘एक मूल्यवान साझेदार के साथ संबंधों को मजबूत किया जा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा ने जी7 सम्मेलन के इतर बातचीत की। उन्होंने व्यापार और दोनों देशों की जनता के स्तर पर संबंधों को बढ़ावा देने के तरीकों सहित भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच मैत्रीपूर्ण संबंधों पर चर्चा की।’’ 

इसे भी पढ़ें: राहुल गांधी ने किया प्रधानमंत्री मोदी पर बड़ा हमला, कहा- अपने ‘मित्रों’ को बना रहे 'दौलतवीर' और युवाओं को 4 साल के ठेके पर 'अग्निवीर'

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि दोनों नेताओं ने ‘‘व्यापार, निवेश, रक्षा, फार्मास्यूटिकल्स और खाद्य सुरक्षा के क्षेत्रों में द्विपक्षीय संबंधों को और बढ़ाने पर चर्चा की। वे क्षेत्रीय और बहुपक्षीय दोनों मंचों पर घनिष्ठ सहयोग जारी रखने पर सहमत हुए।’’ भारत के अलावा, जी7 शिखर सम्मेलन के मेजबान, जर्मनी ने अर्जेंटीना, इंडोनेशिया, सेनेगल और दक्षिण अफ्रीका को अतिथि के रूप में आमंत्रित किया है। सात देशों के इस समूह (जी7) में कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं। वर्ष 2019 में भारत के 70वें गणतंत्र दिवस समारोह में राष्ट्रपति रामफोसा मुख्य अतिथि थे। वर्ष 2022 देशों के बीच 25 साल की रणनीतिक साझेदारी का प्रतीक है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़