इमरजेंसी परोल पर छोड़े गए 2000 कैदी, जेल वापस आने को तैयार नहीं!

tihad jail
निधि अविनाश । Mar 23, 2021 2:49PM
दिल्ली पुलिस हेडक्वाटर को मिली इन कैदियों की जानकारी के जरिए जल्द ही कानूनी कारवाई पूरी की जाएगी। बता दें कि इस कानूनी कारवाई के पूरे होने के बाद दिल्ली पुलिस 2000 से अधिक कैदियों को ढूंढने में जुट जाएगी।

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर तिहाड़ जेल प्रशासन ने परोल और जमानत पर दो हजार से अधिक कैदियों को छोड़ा था लेकिन अब तिहाड़ जेल प्रशासन की चिंता बढ़ती नज़र आ रही है क्योंकि इनमें से एक भी कैदी वपास जेल नहीं लौटे है। सवाल तो यह भी है कि क्या यह कैदी भाग गए है या इनका क्या हुआ है? इसी को देखते हुए अब तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली पुलिस को परोल पर भागे हुए सभी कैदियों की सारी जानकारियां शेयर की है। दिल्ली पुलिस हेडक्वाटर को मिली इन कैदियों की जानकारी के जरिए जल्द ही कानूनी कारवाई पूरी की जाएगी। बता दें कि इस कानूनी कारवाई के पूरे होने के बाद दिल्ली पुलिस 2000 से अधिक कैदियों को ढूंढने में जुट जाएगी। 

इसे भी पढ़ें: केन-बेतवा लिंक परियोजना करेगी समृद्ध और खुशहाल बुंदेलखण्ड का निर्माण : शिवराज सिंह चौहान

तिहाड़ जैल सूत्रों से पता चला है कि साल 2020 को जब कोरोना का कहर बढ़ गया था तब अदालत ने जेल में बंद पड़े 18 हजार से अधिक कैदियों में से करीब 7 हजार कैदियों को परोल या जमानत पर छोड़ा था, लेकिन अब जब कोर्ट ने इन कैदियों के परोल को आगे न बढ़ाने का फैसले करते हुए जेल वापस आने का आदेश दिया है तो अब यह सभी कैदी वापस नहीं लौट रहे है। जेल सूत्रों के मुताबिक, अब तक1184 कैदियो में से 112 कैदी ऐसे है जो अब तक अपने परोल खत्म होने के बाद भी वपास जेल नहीं लौटे है। सूत्रों के मुताबिक वापस जेल नहीं आने वाले यह कैदी या तो भाग गए है या तो जमानत लेने में जुटे हुए है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़