मुख्यमंत्री चौहान की मध्य प्रदेश की जनता से अपील, बोले- वे महाराष्ट्र की यात्रा से बचें

Shivraj Singh Chouhan
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, ‘‘मेरे मजदूर भाई जो पड़ोस के जिलों में सबेरे जाते है और रात को वापस आते हैं उनसे भी मेरा निवेदन है कि मनरेगा के अंतर्गत आपके जिले में ही आपको काम देने की व्यवस्था की जाएगी। कृपया इस समय महाराष्ट्र जाने से बचें।’’

भोपाल। महाराष्ट्र में बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के मद्देनजर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बृहस्पतिवार रात को प्रदेश की जनता से अपील की कि वे यथासंभव महाराष्ट्र की यात्रा से बचें। चौहान ने मध्य प्रदेश की जनता के नाम संदेश में कहा, ‘‘महाराष्ट्र से मध्य प्रदेश में आने वाले भाई-बहनों की पूरी जांच (थर्मल स्क्रीनिंग) की जाएगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरी अपील है कि आप (मध्यप्रदेश की जनता) यथासंभव महाराष्ट्र की यात्रा से बचें।’’ 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री करेंगे 100 दीनदयाल रसोई केन्द्रों का शुभारंभ, जरूरतमंद लोगों को मिलेगा सस्ता खाना 

चौहान ने कहा, ‘‘मेरे मजदूर भाई जो पड़ोस के जिलों में सबेरे जाते है और रात को वापस आते हैं उनसे भी मेरा निवेदन है कि मनरेगा के अंतर्गत आपके जिले में ही आपको काम देने की व्यवस्था की जाएगी। कृपया इस समय महाराष्ट्र जाने से बचें।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं कोरोना के फैलने से रोकने के लिए आपसे एक बार फिर अपील करता हूं।’’ चौहान ने कहा कि अभी हम रात्रि कालीन कर्फ्यू नहीं लगा रहे हैं, लेकिन यदि परिस्थिति बिगड़ी तो हमको उस दिशा में भी जाना पड़ेगा। 

इसे भी पढ़ें: शिवराज सिंह चौहान का बयान, फिर से मध्य प्रदेश में नहीं लगाया जाएगा लॉकडाउन 

उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में कोविड-19 एक बार फिर पैर पसार रहा है। इंदौर, भोपाल, डिंडौरी और महाराष्ट्र की सीमा से लगे जिलों में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पिछले सप्ताह तक पॉजिटिव मामले घट रहे थे लेकिन अब बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सीमा से लगे मध्यप्रदेश के जिले जैसे बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, बैतूल, छिंदवाड़ा, सिवनी एवं बालाघाट के लोगों को और सचते रहने की जरूरत है। चौहान ने कहा कि परिस्थितियाँ बिगड़ती हैं, तो लॉकडाउन जैसे कड़े कदम उठाने पड़ते हैं। इससे गरीब की रोज़ी-रोटी चलना मुश्किल हो जाती है। सरकार नहीं चाहती कि लॉकडाउन की नौबत आए इसलिए बचाव उपाय का पालन करें।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़