शिवराज सिंह चौहान का बयान, फिर से मध्य प्रदेश में नहीं लगाया जाएगा लॉकडाउन

Shivraj Singh Chauhan
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सीमावर्ती इलाकों से मजदूरों को अन्य राज्यों में न जाने का आग्रह करते हुए कहा कि प्रदेश की आर्थिक गतिविधियां प्रभावित न हो इसके लिये प्रदेश में लॉकडाउन नहीं लगाया जायेगा।

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सीमावर्ती इलाकों से मजदूरों को अन्य राज्यों में न जाने का आग्रह करते हुए कहा कि प्रदेश की आर्थिक गतिविधियां प्रभावित न हो इसके लिये प्रदेश में लॉकडाउन नहीं लगाया जायेगा। चौहान ने बुधवार को प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण परिस्थिति की समीक्षा बैठक में कहा, ‘‘सीमावर्ती क्षेत्रों के लोग मजदूरी के लिए अन्य राज्यों में न जाएं, उन्हें मनरेगा के अंतर्गत गांव में ही रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र के लातूर में 27-28 फरवरी को जनता कर्फ्यू, जिलाधिकारी बोले- घरों से नहीं निकलें बाहर

आर्थिक गतिविधियां प्रभावित न हों, इसके लिए प्रदेश में लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा।’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि बालाघाट, सिवनी, बैतूल आदि सीमावर्ती जिलों से मजदूर महाराष्ट्र कार्य के लिए जाते हैं। इन्हें मनरेगा के तहत गांव में ही कार्य दिलाए जाने के निर्देश दिए गए। समीक्षा बैठक में बताया गया कि संक्रमण के मामले बढ़ने पर पचमढ़ी, बैतूल, छिंदवाड़ा आदि में लगने वाले मेले स्थगित कर दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि महाराष्ट्र से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग प्रदेश की सीमा पर अनिवार्य रूप से की जाए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़