ओवैसी के बहाने संजय राउत ने भाजपा को आड़े हाथों लिया, कहा- भिवंडी के मुस्लिम भाई उनको नहीं देंगे समर्थन

Sanjay Raut
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
अनुराग गुप्ता । May 27, 2022 12:21PM
शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि जहां-जहां भाजपा को उनकी जरूरत पड़ती है ओवैसी वहां चले जाते हैं, ये उनका इतिहास है। भिवंडी में भी उनको बुलाया गया होगा। औवैसी हो या कोई और, अगर कोई हमारे राज्य में जहर फैलाने का काम करेगा तो भिवंडी के मुस्लिम भाई उनको समर्थन नहीं देंगे।

मुंबई। शिवसेना सांसद संजय राउत ने ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के बहाने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जहां-जहां भाजपा को उनकी जरूरत पड़ती है ओवैसी वहां चले जाते हैं। दरअसल, असदुद्दीन ओवैसी भिवंडी में एक रैली को संबोधित करने वाले हैं। जिसको लेकर सूबे की सियासत गर्मा गयी है। 

इसे भी पढ़ें: नरोत्तम मिश्रा ने ओवैसी को बताया मुस्लिमों का भस्मासुर, कहा- नारी के अपमान को अपना सम्मान समझते हैं 

ओवैसी को समर्थन नहीं देंगे मुस्लिम भाई

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि जहां-जहां भाजपा को उनकी जरूरत पड़ती है ओवैसी वहां चले जाते हैं, ये उनका इतिहास है। भिवंडी में भी उनको बुलाया गया होगा। औवैसी हो या कोई और, अगर कोई हमारे राज्य में जहर फैलाने का काम करेगा तो भिवंडी के मुस्लिम भाई उनको समर्थन नहीं देंगे।

इससे पहले संजय राउत ने अनिल परब के आवास पर हुई ईडी की कार्रवाई को लेकर भाजपा पर निशाना साधा था। उन्होंने भाजपा पर केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए कहा था कि राज्य में महाविकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार परिवहन मंत्री अनिल परब के साथ खड़ी है। उन्होंने कहा था कि बदले की राजनीति करने के लिए इस प्रकार के कदम उठाए जा रहे हैं। 

इसे भी पढ़ें: ओवैसी के गढ़ में मोदी की दहाड़, केसीआर और परिवारवाद पर वार, इस बार भाजपा लाएगी बदलाव की बयार 

भिवंडी में होगी ओवैसी की रैली

ज्ञानवापी मस्जिद मुद्दे समेत देश के तमाम विषयों पर बेबाक अंदाज से बोलने वाले एआईएमआईएम प्रमुख 28 मई को भिवंडी में एक जनसभा को संबोधित करेंगे। जिससे पहले सूबे की सियासय गर्मा गयी है। सांसद इम्तियाज जलील ने बताया कि असदुद्दीन ओवैसी की जनसभा परशुराम तावरे स्टेडियम में होगी। जनसभा को लेकर तैयारियां चल रही है और हम इसका जायजा लेने आने थे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़