MVA संकट के बीच शिवसेना का पुष्पा वाला रुख, संजय राउत बोले- पार्टी झुकेगी नहीं और न ही डरेगी

Shiv Sena Sanjay Raut
प्रतिरूप फोटो
ANI Image
शिवसेना सांसद संजय राउत ने बताया कि मुझे विश्वास है कि 20-25 विधायक हमारे साथ आएंगे, विधायकों से हमारी बात जारी है। उन लोगों ने बहुत बड़ी गलती की है। उन लोगों की सदस्यता ख़तरे में है। अगर वो चाहते हैं कि महाविकास अघाड़ी से मुझे बाहर जाना है तो ये बहाना है।

मुंबई। महाराष्ट्र में सियासी घटनाक्रम तेजी से बदल रहा है। महाविकास अघाड़ी में शामिल तीनों पार्टियां शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस लगातार बैठकें कर रही हैं। लेकिन शिवसेना के समक्ष सरकार बचाने के साथ-साथ पार्टी का अस्तित्व बचाने की भी लड़ाई है। क्योंकि एकनाथ शिंदे शिवसेना के 35 बागी विधायकों और 7 निर्दलीय विधायकों के साथ गुवाहाटी के रेडिसन ब्लू होटल में अपना डेरा जमाया हुआ है। 

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र: MLA नितिन देशमुख ने लगाया था अगवा करने का आरोप, अब शिंदे गुट ने जारी किया हंसता खेलता फोटो 

इसी बीच शिवसेना सांसद और नेता संजय राउत का बयान सामने आया। जिसमें उन्होंने पुष्पा वाला अंदाज दिखाया और कहा कि पार्टी झुकेगी नहीं और न ही डरेगी। साथ ही संजय राउत ने विश्वास जताया कि 20-25 विधायक हमारे साथ आएंगे। वो भी तब जब एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखा गया बागी विधायकों वाला पत्र जारी किया। जिसमें आरोप लगाया कि ढाई साल से विधायकों के लिए 'वर्षा' के दरवाजे बंद थे।

नहीं झुकेगी शिवसेना

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, शिवसेना सांसद संजय राउत ने बताया कि मुझे विश्वास है कि 20-25 विधायक हमारे साथ आएंगे, विधायकों से हमारी बात जारी है। उन लोगों ने बहुत बड़ी गलती की है। उन लोगों की सदस्यता ख़तरे में है। अगर वो चाहते हैं कि महाविकास अघाड़ी से मुझे बाहर जाना है तो ये बहाना है। उन्होंने कहा कि ये बात आप हमारे सामने आकर भी कह सकते हैं। इससे शिवसेना न झुकने वाली है न डरने वाली है। 

इसे भी पढ़ें: जमीनी संघर्ष से नदारद हैं कांग्रेसी, क्या बस गांधी परिवार है अहम ? या फिर सहयोगियों के लिए संभालना था मोर्चा

जल्द वर्षा वापस आएंगे उद्धव

उद्धव ठाकरे ने बुधवार की देर शाम एनसीपी प्रमुख शरद पवार के मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री आवास 'वर्षा' छोड़ दिया और 'मातोश्री' आ गए। इस संबंध में भी संजय राउत ने बयान जारी किया है। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे बहुत जल्द वर्षा बंगले में वापस आएंगे। गुवाहाटी में 21 विधायकों ने हमसे संपर्क किया है और जब वे मुंबई लौटेंगे, तो वे हमारे साथ आएंगे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़