उपाध्यक्ष पद की मांग करने पर नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस पर कसा तंज

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 23, 2021   14:37
उपाध्यक्ष पद की मांग करने पर नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस पर कसा तंज

उन्हें कोई भी नहीं रोक रहा है लेकिन उन्हें उपाध्यक्ष पद क्यों मिलना चाहिए। जब वह 15 साल बाद 15 महीने के लिए पावर में आए तो उन्होंने प्रदेश को क्या दिया, जिसका वह तर्क दे रहे हैं कि हमने अध्यक्ष का चुनाव लड़ा था।

इन दिनों मध्य प्रदेश में विधानसभा का बजट सत्र चल रहा है। मध्य प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष पद पर भाजपा द्वारा गिरीश गौतम की नियुक्ति की गयी, गिरीश गौतम की नियुक्ति के बाद से उपाध्यक्ष पद को लेकर बीजेपी और कांग्रेस के बीच जंग शुरू हो गयी है। कांग्रेस पार्टी ने अपना पूरा ध्यान उपाध्यक्ष पद पर कब्जा करने पर दिया हुआ है। इसी के बीच मंगलवार को मीडिया से बात करते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस पर तंज कस्ते हुए कहा कि उन्हें कोई भी नहीं रोक रहा है लेकिन उन्हें उपाध्यक्ष पद क्यों मिलना चाहिए। जब वह 15 साल बाद 15 महीने के लिए पावर में आए तो उन्होंने प्रदेश को क्या दिया, जिसका वह तर्क दे रहे हैं कि हमने अध्यक्ष का चुनाव लड़ा था। मेरा उनसे प्रश्न है कि वह सरकार अल्पमत की सरकार थी बहुमत की सरकार नहीं थी। अल्पमत की सरकार में विसंगतियां आती हैं। उनको अपना मन बड़ा करना था, हमारी सरकार बहुमत की सरकार है। 

बंगाल में चल रहे कोयला घोटाले को लेकर उन्होंने कहा, "कोयले की दलाली में सब काला हो गया है। अगर ईमानदार है तो सामने आए भागते क्यों है। सीबीआई के पास जाने में दिक्कत है तो मीडिया के माध्यम से अपनी बात रख दें, अपनी निष्पक्षता साबित तो करें। क्योकि  डेमोक्रेसी में कई फोरम है सिर्फ एक फोरम नहीं है। उनका पलायन करना इस बात का सूचक है कि उनके हाथ काले हैं।"

कमलनाथ पर तंज कस्ते हुए नरोत्तम मिश्रा ने कहा, "कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ जी से मेरा आग्रह है कि जब इस तरह के कार्यक्रम हो जिसमें थोड़ा भी शारीरिक श्रम करना पड़ता हो तो पहले अपने विधायकों का स्वास्थ्य परीक्षण कराए। सदन को उनके स्वास्थ्य की उनके सम्मान की पूरी चिंता है लेकिन कल जिस तरह का वाकया देखने पर आया वह काफी चिंताजनक है।"

प्रदेश में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर उन्होंने कहा, "महाराष्ट्र से सटे हुए जो हमारे जिले हैं उनमें सभी जिला कलेक्टरों, पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किया है कि जो कोरोना की गाइडलाइन है उसकी पूरी सावधानियों का ध्यान रखें। इसी के साथ भोपाल तथा इंदौर में विशेष सतर्कता बरतने को कहा है।"





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...