नासिक ऑक्सीजन रिसाव मामले में पूरी तरह जांच की जाएगी: महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 21, 2021   17:34
नासिक ऑक्सीजन रिसाव मामले में पूरी तरह जांच की जाएगी: महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने नासिक ऑक्सीजन रिसाव मामले में पूरी तरह जांच करने को कहा है। टोपे ने यहां संवाददाताओं से कहा कि मृतकों में 11 पुरुष और 11 महिलाएं थीं और ये सभी वेंटिलेटर पर थे।

मुंबई। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बुधवार को कहा कि नासिक के एक निगम अस्पताल में ऑक्सीजन के रिसाव के मामले में यह पता लगाने के लिए पूरी तरह जांच की जाएगी कि क्या ऐसा लापरवाही की वजह से हुआ। स्थानीय अधिकारियों के अनुसार नासिक के जाकिर हुसैन निगम अस्पताल में ऑक्सीजन रिसाव की वजह से आपूर्ति बाधित होने से अस्पताल में कम से कम 22 रोगियों की मृत्यु हो गयी। टोपे ने यहां संवाददाताओं से कहा कि मृतकों में 11 पुरुष और 11 महिलाएं थीं और ये सभी वेंटिलेटर पर थे।

इसे भी पढ़ें: पीएम नरेंद्र मोदी के संबोधन पर बोले कांग्रेस नेता अजय माकन, प्रधानमंत्री ने एक मजबूत देश को लाचार बना दिया

टोपे ने कहा, ‘‘बहुत भयावह घटना घटी है। यह नासिक नगर निगम द्वारा संचालित कोविड-19 अस्पताल है जहां 157 रोगियों को भर्ती कराया गया था जिनमें से 67 वेंटिलेटर पर थे।’’ मंत्री ने कहा, ‘‘यह अभी पता लगाना है कि क्या ऑक्सीजन टैंक से रिसाव लापरवाही की वजह से हुआ था। घटना की पूरी तरह जांच की जाएगी।’’ उन्होंने कहा कि मृतकों के परिजनों को मुख्यमंत्री राहत कोष से आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी। टोपे ने कहा कि राज्य सरकार भविष्य में इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए विशेषज्ञों की राय भी लेगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।