नेताजी का जन्मदिन पराक्रम दिवस के रूप में मनाया जाएगा, संस्कृति मंत्रालय ने जारी की अधिसूचना

नेताजी का जन्मदिन पराक्रम दिवस के रूप में मनाया जाएगा, संस्कृति मंत्रालय ने जारी की अधिसूचना

भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय ने 23 जनवरी को सुभाष चंद्र बोस का जन्मदिन मनाए जाने को लेकर अधिसूचना जारी की है। बता दें कि 23 जनवरी 2021 को नेताजी की 125वीं जयंती है।

भारत सरकार ने हर साल 23 जनवरी को नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जन्मदिन को पराक्रम दिवस के रूप में मनाने का फैसला लिया है। भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय ने 23 जनवरी को सुभाष चंद्र बोस का जन्मदिन मनाए जाने को लेकर अधिसूचना जारी की है। बता दें कि 23 जनवरी 2021 को नेताजी की 125वीं जयंती है।

इसे भी पढ़ें: शुभेंदु अधिकारी के गढ़ में ममता बनर्जी ने दिखाई ताकत, नंदीग्राम से चुनाव लड़ने का किया ऐलान

नेताजी सुभाष चंद्र बोस के परपोते चंद्र कुमार बोस ने कहा कि भारत नेताजी सुभाष चंद्र बोस के कारण आज़ाद हुआ। काफी सालों से भारत की जनता नेताजी का जन्मदिन देश प्रेम दिवस के रूप में मना रही है। इस घोषणा से हम खुश हैं लेकिन अगर भारत सरकार 23 जनवरी की देश प्रेम दिवस के रूप में घोषणा करती तो ज़्यादा उपयुक्त होता। गौरतलब है कि पीएम मोदी की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय कमेटी का गठन किया गया है। इस कमेटी का गठन नेताजी की जयंती मनाने के लिए किया गया है। यह कमेटी 23 जनवरी 2021 से शुरू होने वाली एक साल की लंबी स्मृति के लिए तैयार की गई गतिविधियों का फैसला करेगी। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...