बिहार में गिर जाएगी नीतीश सरकार? तेजस्वी के दावे पर मांझी और सहनी ने दिया यह जवाब

बिहार में गिर जाएगी नीतीश सरकार? तेजस्वी के दावे पर मांझी और सहनी ने दिया यह जवाब

जीतन राम मांझी ने दावा किया कि बिहार में एनडीए पूरी तरह से एकजुट है। उन्होंने कहा कि भले ही चिराग पासवान तेजस्वी यादव के साथ हाथ मिला लें लेकिन नीतीश कुमार की सरकार को कोई असर पड़ने वाला नहीं है।

बिहार में राजनीतिक कयासों का दौर लगातार जारी है। पिछले दिनों बिहार के नेता प्रतिपक्ष और लालू यादव की विरासत को संभालने वाले उनके बेटे तेजस्वी यादव ने दावा किया था कि नीतीश कुमार की सरकार गिर जाएगी। तेजस्वी के इसी दावे पर एनडीए में शामिल हिंदुस्तान आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने बड़ा बयान दिया है।

इसे भी पढ़ें: प्रदेश प्रभारी के सुझाव पर भाजपा ज़िला शिमला ने चलाया मूर्ति सफाई अभियान

जीतन राम मांझी ने दावा किया कि बिहार में एनडीए पूरी तरह से एकजुट है। उन्होंने कहा कि भले ही चिराग पासवान तेजस्वी यादव के साथ हाथ मिला लें लेकिन नीतीश कुमार की सरकार को कोई असर पड़ने वाला नहीं है। चिराग पर वार करते हुए मांझी ने यह भी कहा कि उनके नेतृत्व वाली एलजेपी केंद्र में एनडीए की सहयोगी नहीं थी क्योंकि उसने बिहार विधानसभा चुनाव अपने दम पर लगा था।

इसे भी पढ़ें: 'आशीर्वाद यात्रा' के बाद होगा मंत्रिमंडल विस्तार! BJP देखना चाहती है- चिराग 'गूंजे धरती आसमान' वाला करिश्मा दिखा सकते हैं या नहीं?

बिहार एनडीए में शामिल वीआईपी के अध्यक्ष और मंत्री मुकेश सहनी ने भी इस पर बड़ा बयान दिया है। मुकेश सहनी ने साफ तौर पर कहा कि कुछ लोगों को दिन में सपना देखने की आदत होती है। उन्हें ऐसा करने दो। अगर कोई ऐसा करें तो इसमें क्या हर्ज है? जीतन राम मांझी और मुकेश साहनी का यह बयान काफी अहम माना जा रहे है।

इसे भी पढ़ें: तेजस्वी और तेज प्रताप ने लिया स्पूतनिक टीका, वैक्सीन लेने के बाद कही ये बात

पिछले दिनों दोनों नेताओं की एनडीए से नाराजगी की खबर थी। संख्या बल के हिसाब से देखें तो दोनों ही दलों का एनडीए के साथ बने रहना बेहद जरूरी है। जीतन राम मांझी को 4 सीटें जबकि सहनी की पार्टी को भी 4 सीटें ही मिली थी। इन्हीं को मिलाकर एनडीए बहुमत का आंकड़ा पार किया है। पिछले दिनों दोनों नेताओं ने नीतीश सरकार के कई फैसलों पर सवाल भी खड़े किए थे। इतना ही नहीं, जीतन राम मांझी ने लालू यादव के जन्मदिन पर तेज प्रताप यादव से मुलाकात की थी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।