केरल में कोविड-19 संक्रमण के प्रसार का अभी तक तीसरा चरण नहीं: केरल स्वास्थ्य मंत्री

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2020   17:53
केरल में कोविड-19 संक्रमण के प्रसार का अभी तक तीसरा चरण नहीं: केरल स्वास्थ्य मंत्री

केरल की स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने कहा कि सामुदायिक प्रसार किसी समुदाय में समग्र रूप से वायरस का संक्रमण होता है। हम ‘रैंडम’ जांच कर रहे हैं। हमें अस्पतालों में ‘रैंडम’ जांच में एक नर्स के संक्रमित होने का पता चला।

तिरुवनंतपुरम। केरल की स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने कहा है कि राज्य में कोविड​​-19 संक्रमण के प्रसार का अभी तक तीसरा चरण या सामुदायिक संचरण नहीं हुआ है लेकिन सतर्कता बनाये रखने की जरूरत है। मंत्री ने यहां संवाददाताओं से कहा कि अभी तक संक्रमण के प्रसार का तीसरा चरण नहीं हुआ है है। उन्होंने कहा कि सामुदायिक प्रसार किसी समुदाय में समग्र रूप से वायरस का संक्रमण होता है। हम ‘रैंडम’ जांच कर रहे हैं। हमें अस्पतालों में ‘रैंडम’ जांच में एक नर्स के संक्रमित होने का पता चला। उन्होंने कहा कि निगरानी, ​​‘रैंडम’ जांच की जा रही है और यह सब संक्रमण का सामुदायिक प्रसार रोकने के लिए किया जा रहा है और यह पाया गया है कि अभी तक संक्रमण का सामुदायिक प्रसार नहीं हुआ है। 

इसे भी पढ़ें: तमिलनाडु एवं केरल में फंसे श्रीलंका के 113 नागरिकों को निकाला गया 

उन्होंने कहा, ‘‘हम यह जाँच कर रहे हैं कि क्या श्वसन-संबंधी या निमोनिया के मामलों में कोई वृद्धि हुई है। अभी तक ऐसी कोई जानकारी सामने नहीं आयी है जो यह बताती हो कि ऐसे मामले बढ़ रहे हैं।’’ इन आरोपों पर कि अधिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता संक्रमित हो रहे हैं क्योंकि उचित सुरक्षा एहतियात का पालन नहीं किया जा रहा है, शैलजा ने कहा कि यदि एक भी स्वास्थ्य कर्मी संक्रमित होता है, तो स्वास्थ्य विभाग सभी सुविधाएं प्रदान करेगा और उन्हें घर भेजने से पहले उनका इलाज पृथक इकाई में करेगा। उन्होंने कहा कि हमने सभी को आवश्यक सावधानी बरतने के लिए कहा है और विभाग इसकी भी निगरानी करेगा कि हर स्वास्थ्य कार्यकर्ता मास्क लगाने, एकदूसरे से दूरी बनाये रखने जैसे प्रोटोकॉल का पालन करे।

इसे भी देखें : कोरोना संक्रमित मृतकों के शोक में पुलिस अधिकारी ने करवाया मुंडन 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...