बाहुबली गुड्डू पंडित समेत 9 उम्मीदवारों का नामांकन हुआ रद्द, सपा ने नहीं दिया टिकट

Guddu Pandit
आपको बता दें कि गुड्डू पंडित ने इसी माह सपा की सदस्यता ली थी और टिकट के लिए भी भागदौड़ कर रहे थे। लेकिन जब सपा ने टिकट नहीं दिया तो शिवसेना का दामन थाम लिया।

चुनावों के लिए नामांकन पत्रों की जांच के दौरान पूर्व विधायक और बाहुबली गुड्डू पंडित समेत 9 लोगों का नामांकन निरस्त कर दिया गया। जानकारी के अनुसार, डिबाई से निर्दलीय सतपाल सिंह, मलखान सिंह, कालियान, चरन सिंह, चंद्रभान, नरेश कुमार और शिकारपुर से आईएनसी के लक्ष्मीकांत गिरी, बुलंदशहर से ऑल इंडिया माइनोरिटी फ्रंट के तारिख खान का नामांकन निरस्त कर दिया गया है।

पूर्व विधायक श्री भगवान शर्मा उर्फ गुड्डू पंडित शिवसेना के टिकट पर डिबाई से चुनाव मैदान में उतरे थे। गुड्डू पंडित ने बीती 21 जनवरी को अपना नामांकन पत्र दाखिल किया था। आपको बता दें कि गुड्डू पंडित ने इसी माह सपा की सदस्यता ली थी और टिकट के लिए भी भागदौड़ कर रहे थे। लेकिन जब सपा ने टिकट नहीं दिया तो शिवसेना का दामन थाम लिया।

गुड्डू पंडित ने सोशल मीडिया साइट फेसबुक पर जानकारी देते हुए बताया कि मैंने आज समाजवादी पार्टी के दोगले रवैये और जनविरोधी नीति के कारण सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। गुड्डू पंडित ने सपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि पार्टी की दमनकारी नीतियों, सभी जातियों को सामान ना समझना, जनता को विकास के नाम पर बहकाना, मुस्लिम भाइयों और हिंदू भाइयों से झूठ बोलने के कारण मैं समाजवादी पार्टी का बहिष्कार करता हूं।

 

आपको बता दें कि गुड्डू पंडित डिबाई विधानसभा से टिकट मांग रहे थे लेकिन समाजवादी पार्टी ने यहां हरीश लोधी को मैदान में उतारा है। पूर्व विधायक गुड्डू पंडित नोयडा गांव के गिझौड गांव के मूल निवासी हैं और बुलंदशहर की डिबाई सीट से बीएसपी के विधायक भी रह चुके हैं। 2007 से 12 तक गुड्डू पंडित बसपा के विधायक रहे। वो 2012 से 17 तक समाजवादी पार्टी के विधायक रहे हैं। 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी के पक्ष में विधान परिषद में वोट डालने की वजह से सपा ने उन्हें निष्कासित कर दिया था।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़