युवाओं को फंसा कर उगाही करने वाले अधिकारियों को गिरफ्तार किया जाना चाहिए :शिवसेना

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 22, 2021   16:34
युवाओं को फंसा कर उगाही करने वाले अधिकारियों को गिरफ्तार किया जाना चाहिए :शिवसेना

शिवसेना ने सोमवार को कहा कि, युवाओं को फंसा कर उगाही करने वाले अधिकारियों को गिरफ्तार किया जाना चाहिए।शिवसेना ने आर्यन खान के मामले का जिक्र करते हुए कहा कि उच्च न्यायालय ने अपने आदेश में कहा था कि स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) द्वारा लगाये गये आरोपों में कोई सच्चाई नहीं है।

मुंबई। शिवसेना ने सोमवार को स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) पर निशाना साधते हुए कहा कि युवाओं को फंसा कर पैसों की उगाही करने की कोशिश करने वाले हर अधिकारी को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। आर्यन खान और दो अन्य को क्रूज जहाज मादक पदार्थ बरामदगी मामले में जमानत देने से संबंधी बंबई उच्च न्यायालय का विस्तृत आदेश आने के कुछ दिनों बाद शिवसेना का यह बयान आया है। शिवसेना ने पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ में केंद्रीय एजेंसियों की आलोचना करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में उनकी कार्रवाई से किसी तरह की साजिश की बू आती है और अभिनेता शाहरूख खान के बेटे आर्यन खान तथा राज्य के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख का जिक्र किया। देशमुख, प्रवर्तन निदेशालय द्वारा दर्ज धनशोधन के एक मामले में अभी न्यायिक हिरासत में हैं। शिवसेना ने आर्यन खान के मामले का जिक्र करते हुए कहा कि उच्च न्यायालय ने अपने आदेश में कहा था कि स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) द्वारा लगाये गये आरोपों में कोई सच्चाई नहीं है। आर्यन को एनसीबी ने मुंबई में पिछले महीने की शुरूआत में एक क्रूज जहाज पर मारे गये छापे के दौरान गिरफ्तार किया था।

इसे भी पढ़ें: CAA की वापसी की उठी मांग, शायर मुनव्वर राणा ने कहा- दुश्मनी निकालने के लिए लाया गया है कानून !

उच्च न्यायालय से जमानत मिलने से पहले वह करीब एक महीने जेल में था। उच्च न्यायालय ने अपने विस्तृत आदेश में कहा था कि प्रथमदृष्टया ऐसा कोई साक्ष्य आरोपियों के खिलाफ नहीं पाया गया है जो यह प्रदर्शित करता हो कि उन्होंने अपराध की साजिश रची थी। शिवसेना ने कहा, ‘‘यदि यह (बंबई उच्च न्यायालय की बात) सही है तो हर अधिकारी, जो युवाओं को फंसा कर उगाही कर रहा है, उसे गिरफ्तार किया जाना चाहिए। ’’ दिल्ली एनसीबी की टीम मुंबई के अपने क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े को रकम अदायगी के आरोपों की जांच कर रही है।

इसे भी पढ़ें: गाय को शेर के सामने चारे के रूप में रखा, वीडियो सामने आने के बाद 12 पर मामला दर्ज

महाराष्ट्र में महाविकास आघाडी सरकार का नेतृत्व कर रही शिवसेना ने आर्यन खान मामले में नये तथ्य सामने लाने को लेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता व राज्य मंत्री नवाब मलिक की भी सराहना की। मलिक ने छापेमारी को फर्जी बताया था और वानखेड़े पर आर्यन का इस्तेमाल कर धन की उगाही करने की कोशिश करने का आरोप लगाया था। धनशोधन के एक मामले में देशमुख को गिरफ्तार करने वाले ईडी पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे नीत पार्टी ने कहा कि एजेंसी के कार्य एनसीबी की तरह है। शिवसेना ने कहा, ‘‘जिस तरह से एजेंसियों ने महाराष्ट्र में अपना डेरा डाल रखा है और जिस तरीके से वे काम कर रही हैं, उसमें किसी प्रकार की साजिश प्रतीत होती है।’’ ‘सामना’ ने राकांपा प्रमुख शरद पवार को भी उद्धृत किया, जिन्होंने पिछले हफ्ते कहा था कि देशमुख की गिरफ्तारी में शामिल लोगों को इसकी कीमत चुकानी होगी और जोर देते हुए कहा था कि पूर्व गृह मंत्री बेकसूर हैं। शिवसेना ने कहा, ‘‘एक मामले में (आर्यन खान मामले में) एजेंसी के मुंह पर तमाचा लगा है। अन्यों का भी जल्द ही यही हश्र होगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।