BJP के खिलाफ राष्ट्रीय स्तर पर महागठबंधन बनाने की बात से मुकरे शरद पवार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 24, 2018   11:39
BJP के खिलाफ राष्ट्रीय स्तर पर महागठबंधन बनाने की बात से मुकरे शरद पवार

इस महीने के शुरू में चंद्रबाबू नायडू ने 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा से मुकाबले के लिए राष्ट्रीय स्तर का गठबंधन बनाने के अपने प्रयास के तहत दिल्ली में पवार और नेशनल कान्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला से मुलाकात की थी।

कोल्हापुर। राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने शुक्रवार को कहा कि विपक्षी पार्टियां राष्ट्रीय स्तर पर महागठबंधन नहीं बल्कि राज्य स्तरीय भाजपा विरोधी गठबंधन बनाने का प्रयास कर रही हैं। इस महीने के शुरू में तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा से मुकाबले के लिए राष्ट्रीय स्तर का गठबंधन बनाने के अपने प्रयास के तहत दिल्ली में पवार और नेशनल कान्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला से मुलाकात की थी।

पवार ने कहा, ‘‘हम कोई राष्ट्रीय स्तर का महागठबंधन बनाने का प्रयास नहीं कर रहे हैं। हमारा प्रयास राज्य आधार पर गठबंधन बनाना और प्रत्येक राज्य में प्रमुख राजनीतिक दल को प्राथमिकता देना है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसके लिए हम 10 दिसम्बर को दिल्ली में बैठक करने वाले हैं। उक्त बैठक में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) इस्तेमाल के मुद्दे पर भी चर्चा की जाएगी।’’ कुछ विपक्षी दलों ने ईवीएम के इस्तेमाल पर आपत्ति जतायी है और आरोप लगाया है कि उनसे छेड़छाड़ की जा सकती है।

पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश सरकारों द्वारा सीबीआई को ‘‘आम मंजूरी’’ वापस लेने के निर्णय के बारे में पूछे जाने पर पवार ने कहा, ‘‘यदि भाजपा नीत केंद्र सरकार ने सीबीआई का दुरूपयोग करना जारी रखा तो अन्य राज्य भी इसका अनुसरण कर सकते हैं।’’ उन्होंने देश की अर्थव्यवस्था पर बोलते हुए कहा कि स्थिति गंभीर है। राममंदिर के मुद्दे पर उन्होंने कहा, ‘‘विकास को लेकर बोलने को कुछ है नहीं इसलिए भाजपा आगामी चुनाव में मंदिर मुद्दे का इस्तेमाल करने का प्रयास कर रही है।’’ 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...