चांदनी चौक में रातभर में बना हनुमान मंदिर, हाई कोर्ट के आदेश के बाद हटाया गया था

चांदनी चौक में रातभर में बना हनुमान मंदिर, हाई कोर्ट के आदेश के बाद हटाया गया था

प्राप्त जानकारी के अनुसार स्थानीय लोगों ने नए मंदिर को खुद चंदा इकट्ठा करके तैयार किया है। उत्तरी दिल्ली नगर निगम के स्टोर से रात को ही मूर्ति लाई गई औऱ मंदिर का निर्माण किया गया है।

राजधानी दिल्ली के चांदनी चौक इलाके में दिल्ली नगर निगम द्वारा हटाए गए 50 साल पुराने हनुमान मंदिर को रातो रात फिर से नया बना दिया गया। शुक्रवार सुबह मंदिर के निर्माण से जुड़ी जानकारी सामने आई। कहा जा रहा है कि स्थानीय लोगों के द्वारा रातभर में ही नया हनुमान मंदिर तैयार कर दिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार स्थानीय लोगों ने नए मंदिर को खुद चंदा इकट्ठा करके तैयार किया है। उत्तरी दिल्ली नगर निगम के स्टोर से रात को ही मूर्ति लाई गई औऱ मंदिर का निर्माण किया गया है। 

इसे भी पढ़ें: आतंक के साए से बाहर निकल रहा कश्मीर, 31 साल बाद खुला श्रीनगर का प्राचीन शीतल नाथ मंदिर

हाईकोर्ट के आदेश के बाद तोड़ा गया था मंदिर

बता दें कि पिछले महीने 3 जनवरी को चांदनी चौक स्थित 50 वर्ष पुराने मंदिर सुबह चार बजे के करीब दिल्ली नगर निगम ने अपना बुलडोजर चला दिया था। रात के अंधेरे में इस तरह की कार्यवाही से इलाके में तनाव भी उत्पन्न हो गया था। 

आप और भाजपा के बीच चला था आरोप-प्रत्यारोप

चांदनी चौक स्थिक हनुमान मंदिर के तोड़े जाने के बाद भाजपा और आम आदमी पार्टी के बीच आरोप-प्रत्यारोप भी देखने को मिला था। आप ने आरोप लगाया था कि भाजपा नीत एमसीडी ने 100 साल पुराना हनुमान मंदिर ढहाया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता तथा दिल्ली नगर निगम के प्रभारी दुर्गेश पाठक ने कहा कि खुद को हिंदुओं की पार्टी कहने वाली भाजपा का वास्तविक चेहरा आज पूरे देश के सामने बेनकाब हो गया है। वहीं, भाजपा की दिल्ली इकाई ने पलटवार करते हुए मंदिर विध्वंस की निंदा करते हुए दावा किया कि चांदनी चौक में चल रही सौंदर्यीकरण योजना आप सरकार ने शुरू की है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।