मध्य प्रदेश में ऑक्‍सीजन की किल्लत हुई कम, 18 जिलों में पहुंचाई गई 540 मीट्रिक टन ऑक्सीजन

मध्य प्रदेश में ऑक्‍सीजन की किल्लत हुई कम, 18 जिलों में पहुंचाई गई 540 मीट्रिक टन ऑक्सीजन

प्रदेश में कोविड मरीजों को जरूरत के अनुसार ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए किये जा रहे प्रयासों के परिणाम स्वरूप 471 मीट्रिक टन ऑक्सीजन टैंकरों की जरूरत के विरूद्ध 540 मीट्रिक टन ऑक्सीजन प्रदेश के विभिन्न जिलों में पहुँची है।

भोपाल। मध्य प्रदेश के विभिन्न शहरों में बुधवार को शासन द्वारा 540 मीट्रिक टन ऑक्सीजन पहुँचा दी गई है। ट्रेन और टैंकरों के माध्यम से पहुंच रही ये मेडीकल ऑक्सीजन कोरोना मरीजों के लिए संजीवनी साबित हो रही है। जिसके बाद कहा जा सकता है कि राज्य सरकार के प्रयासों से आवश्यक माँग से अधिक मात्रा में ऑक्सीजन की आपूर्ति होना शुरू हो गई है। ऑक्सीजन लेकर आ रही ट्रेन और प्रत्येक टैंकर की ट्रेंकिंग भी की जा रही है।

 

इसे भी पढ़ें: पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया अपना एक साल का वेतन, जीवन रक्षक रेमडेसिविर के लिए किया आग्रह

इस संबंध में अधिकारिक तौर पर बताया गया कि बुधवार को छह टैंकरों से 107 मीट्रिक टन ऑक्सीजन भोपाल पहुँची। इसी क्रम में विदिशा जिले के लिए 10 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लेकर टैंकर पहुँचा है। ग्वालियर के लिये चार टैंकरों से 50 मीट्रिक टन, इंदौर के लिए छह टैंकरों से 119.5 मीट्रिक टन, जबलपुर के लिए तीन टैंकरों से 53 मीट्रिक टन, रीवा के लिए तीन टैंकरो से 47 मीट्रिक सागर के लिए दो टैंकरो से 30 मीट्रिक टन ऑक्‍सीजन भेजी गई है। 

इसे भी पढ़ें: इंदौर में रेलवे ने की कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर से लैस 320 बेड की व्‍यवस्‍था

इसी प्रकार से कटनी के लिए दो टैंकरो से 15 मीट्रिक टन, शहडोल के लिए एक टैंकर से 10 मीट्रिक टन, छिंदवाड़ा के लिए एक टैंकर से 16.5 मीट्रिक टन, रतलाम के लिए एक टैंकर से 16.5 मीट्रिक टन, दतिया के लिए एक से पांच मीट्रिक टन, खण्डवा के लिए एक टैंकर से दस मीट्रिक टन, उज्जैन के लिए दो टैंकरों से 26 मीट्रिक टन, शिवपुरी के लिए एक टैंकर से 4.5 मीट्रिक टन, छतरपुर के लिए एक टैंकर से 4.5 मीट्रिक टन, मंडीदीप रायसेन के लिए एक टैंकर से दस मीट्रिक टन और सतना जिले के लिए एक टैंकर से 6.2 मीट्रिक टन ऑक्सीजन पहुँचाई गई है। 

 

इसे भी पढ़ें: शिवराज सरकार ने 2000 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर खरीदे, पीएसए तकनीक आधारित 8 ऑक्सीजन प्लांट्स किए स्वीकृत

प्रदेश में कोविड मरीजों को जरूरत के अनुसार ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए किये जा रहे प्रयासों के परिणाम स्वरूप 471 मीट्रिक टन ऑक्सीजन टैंकरों की जरूरत के विरूद्ध 540 मीट्रिक टन ऑक्सीजन प्रदेश के विभिन्न जिलों में पहुँची है। इससे जिलों में कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित होगी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।