कुल्लू हादसा: प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से मृतकों के परिजनों को मिलेंगे दो-दो लाख

kullu accident
ANI
कुल्लू हादसे पर प्रधानमंत्री ने मृतकों के परिजन को दो-दो लाख रुपए देने की घोषणा की है। प्रधानमंत्री कार्यालय ने मोदी के हवाले से ट्वीट किया, ‘‘हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुआ बस हादसा हृदयविदारक है। मैं दुख की इस घड़ी में शोकसंतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।’’

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुए बस हादसे को हृदयविदारक बताया और इस दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजन को दो-दो लाख रुपए की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कुल्लू जिले में एक निजी बस के खड्ड में गिर जाने से कुछ स्कूली बच्चों समेत 16 लोगों की मौत हो गई। प्रधानमंत्री कार्यालय ने मोदी के हवाले से ट्वीट किया, ‘‘हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में हुआ बस हादसा हृदयविदारक है। मैं दुख की इस घड़ी में शोकसंतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।’’

इसे भी पढ़ें: उद्धव ठाकरे को लग रहे झटके पर झटके ! शिंदे गुट के साथ देखे गए एक और विधायक

उन्होंने कहा, ‘‘मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। स्थानीय प्रशासन दुर्घटना पीड़ितों को हरसंभव मदद मुहैया करा रहा है।’’ प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक अन्य ट्वीट में बताया कि प्रधानमंत्री ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजन को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) से दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि दिए जाने की मंजूरी दी है। उसने बताया कि घायलों को 50-50 हजार रुपए दिए जाएंगे। कुल्लू के उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने बताया कि सैंज जा रही बस जंगला गांव के पास सुबह करीब साढ़े आठ बजे खड्ड में गिर गई। उन्होंने बताया कि जिले के अधिकारी तथा बचाव दल मौके पर पहुंच गए हैं और घायलों को नजदीक स्थित एक अस्पताल ले जाया जा रहा है। घटना संबंधी विस्तृत जानकारी का इंतजार है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़