QUAD Summit | टोक्यो में बोले पीएम मोदी, कम समय में प्रभावी हुआ क्वाड, लोकतांत्रिक शक्तियों को मिल रही नई ऊर्जा

PM Modi
ani
रेनू तिवारी । May 24, 2022 8:33AM
टोक्यो में महत्वपूर्ण क्वाड शिखर सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि क्वाड के प्रयास एक स्वतंत्र, खुले और समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र को प्रोत्साहित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आपसी विश्वास और दृढ़ संकल्प लोकतांत्रिक सिद्धांतों को नई आशा दे रहे हैं।

टोक्यो में महत्वपूर्ण क्वाड शिखर सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि क्वाड के प्रयास एक स्वतंत्र, खुले और समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र को प्रोत्साहित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आपसी विश्वास और दृढ़ संकल्प लोकतांत्रिक सिद्धांतों को नई आशा दे रहे हैं, यह कहते हुए कि क्वाड ने विश्व प्रसिद्धि प्राप्त की है। उन्होंने कहा, क्वाड स्तर पर हमारे आपसी सहयोग से एक स्वतंत्र, खुले और समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र को प्रोत्साहित किया जा रहा है- यह हम सभी का साझा लक्ष्य है।

इसे भी पढ़ें: जियो, एयरटेल को देशभर में 5जी स्पेक्ट्रम मिलने की संभावना, वोडा आइडिया पर असमंजसः रिपोर्ट

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने प्रधानमंत्री मोदी का क्वाड शिखर सम्मेलन में स्वागत किया, कहा-आपसे व्यक्तिगत तौर पर दोबारा मिलकर बहुत अच्छा लग रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने तोक्यो में ‘क्वाड’ शिखर सम्मेलन में कहा ‘क्वाड’ ने कुछ ही समय में वैश्विक मंच पर अहम स्थान हासिल कर लिया है। आज, क्वाड का दायरा व्यापक हो गया है और इसकी पहचान महत्वपूर्ण बन गई है। पीएम मोदी ने आगे कहा हमारा आपसी सहयोग एक स्वतंत्र, खुले और समावेशी हिंद-प्रशांत क्षेत्र को प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। 

इसे भी पढ़ें: ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को ‘पार्टीगेट’ रिपोर्ट पर फैसले का इंतजार

प्रधानमंत्री मोदी ने क्वाड शिखर सम्मेलन में मौजूदा स्थिति पर आगे कहा कि हमने टीकों की आपूर्ति, जलवायु परिवर्तन के खिलाफ कार्रवाई, आपूर्ति श्रृंखला को लचीला बनाने और आर्थिक सहयोग के क्षेत्र में समन्वय बढ़ाया है। हमारा सहयोग हिंद-प्रशांत क्षेत्र में शांति और स्थिरता को बढ़ावा देने में योगदान दे रहा है। हमारा आपसी विश्वास एवं संकल्प लोकतांत्रिक ताकतों को नई ऊर्जा दे रहा है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़