39वां मुख्य न्यायाधीश सम्मेलनः PM मोदी करेंगे उद्घाटन, CJI, 25 हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश करेंगे चर्चा

39वां मुख्य न्यायाधीश सम्मेलनः PM मोदी करेंगे उद्घाटन, CJI, 25 हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश करेंगे चर्चा
ANI

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी कल 30 अप्रैल को विज्ञान भवन, नई दिल्ली में राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों के संयुक्त सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में भाग लेंगे, वह इस अवसर पर सभा को भी संबोधित करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 अप्रैल 2022 को सुबह 10 बजे विज्ञान भवन नई दिल्ली में राज्यों के मुख्यमंत्रियों और उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों के संयुक्त सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में भाग लेंगे। इस मौके पर 39वें सम्मेलन की अध्यक्षता करेंगे। सम्मेलन में जिन मुख्य बिंदुओं पर चर्चा की जानी है, उनमें पूरे भारत के न्यायालय परिसरों में नेटवर्क और कनेक्टिविटी को प्राथमिकता देना, जिला अदालतों में मानव संसाधन और कार्मिक नीति की जरूरतें, बेहतर बुनियादी ढांचे और क्षमता निर्माण, कानूनी और संस्थागत सुधार और उच्च न्यायालय के न्यायाधीशों का चयन शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें: पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर बोले हरदीप पुरी, दूसरे राज्यों की तुलना में भाजपा शासित राज्य आधा वसूल रहे वैट

संयुक्त सम्मेलन कार्यपालिका और न्यायपालिका के लिए न्याय के सरल और सुविधाजनक वितरण के लिए रूपरेखा तैयार करने और न्याय प्रणाली के सामने आने वाली चुनौतियों को दूर करने के लिए आवश्यक कदमों पर चर्चा करने का एक अवसर है। पिछला ऐसा सम्मेलन 2016 में आयोजित किया गया था। तब से, सरकार ने ईकोर्ट मिशन मोड प्रोजेक्ट के तहत अदालती प्रक्रियाओं में बुनियादी ढांचे में सुधार और डिजिटल प्रौद्योगिकी के एकीकरण के लिए कई पहल की हैं।

इसे भी पढ़ें: जानें कौन हैं रामचंद्र गुहा, विवादों से रहा है पुराना नाता

6 साल बाद हो रहा सम्मेलन 

यह सम्मेलन छह साल बाद हो रहा है। इससे पहले, 2016 में यह सम्मेलन हुआ था। पीएमओ ने कहा कि 2016 से अब तक सरकार ने अवसंरचना में सुधार और ‘ई-कोर्ट्स मिशन मोड प्रोजेक्ट’ के तहत अदालती प्रक्रियाओं में डिजिटल प्रौद्योगिकी का एकीकरण करने के लिए विभिन्न कदम उठाए हैं।  





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।