भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल का बीजेपी पर हमला, पूछा- बीजेपी-RSS को लोगों द्वारा चुनी सरकार को गिराने का क्या अधिकार?

Rahul
ANI
अभिनय आकाश । Sep 29, 2022 7:19PM
राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि राज्यपालों को विपक्ष शासित राज्यों में हस्तक्षेप करने का अधिकार क्यों होना चाहिए? क्या वे राज्य के लोगों द्वारा चुने जाते हैं? भाजपा और आरएसएस को भारत के लोगों द्वारा चुनी गई सरकारों को गिराने का क्या अधिकार है?

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा 30 सितंबर को चामराजनगर जिले से कर्नाटक चरण में प्रवेश करने वाली है।  7 सितंबर से शुरू हुई राहुल की यात्रा के फिलहाल 22वें दिन पूरे हो चुके हैं। केरल में करीब 450 किमी का सफर तय करने के बाद यात्रा  20 सितंबर यानी गुरुवार के दिन एक बार फिर तमिलनाडु में प्रवेश किया और इसके बाद कर्नाटक की तरफ बढ़ेगी। तमिलनाडु के गुडलुर में सांसद राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित करते हुए बीजेपी पर एकबार फिर निशाना साधा है। उन्होंने बीजेपी पर नफरत फैलाने का आरोप लगाया है।

इसे भी पढ़ें: कर्नाटक में एंट्री से पहले ही फटे राहुल गांधी के पोस्टर, कांग्रेस नेताओं ने बीजेपी पर लगाया आरोप

राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि राज्यपालों को विपक्ष शासित राज्यों में हस्तक्षेप करने का अधिकार क्यों होना चाहिए? क्या वे राज्य के लोगों द्वारा चुने जाते हैं? भाजपा और आरएसएस को भारत के लोगों द्वारा चुनी गई सरकारों को गिराने का क्या अधिकार है? भाजपा पूरे देश पर एक भाषा और एक संस्कृति थोपना चाहती है। हम एकता चाहते हैं लेकिन विविधता का सम्मान करते हैं। एकरूपता नहीं चाहते हैं। इस खूबसूरत देश में हर राज्य, हर संस्कृति और हर भाषा का एक स्थान है और उस जगह का सम्मान किया जाना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: अर्शदीप सिंह ने किया खुलासा,परिस्थितियों से सामंजस्य बिठाने पर मुख्य ध्यान

राहुल गांधी ने कहा कि देश में भाजपा द्वारा फैलाई गई नफरत और गुस्से का नतीजा क्या है? - बेरोजगारी का उच्चतम स्तर और भारत में अब तक की सबसे ऊंची कीमतें, किसानों, मजदूरों, छोटे और मध्यम व्यवसायों के लिए भारी पीड़ा। बता दें कि कांग्रेस की 3 हजार 570 किलोमीटर लंबी और 150 दिनों तक चलने वाली भारत जोड़ो यात्रा तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई थी और ये जम्मू कश्मीर में संपन्न होगी। भारत जोड़ो यात्रा एक अक्टूबर को कर्नाटक पहुंचने से पहले 19 दिन में केरल के सात जिलों से गुजरते हुए 450 किलोमीटर की दूरी तय करेगी।

अन्य न्यूज़