राज ठाकरे ने राज्यपाल की सलाह पर बिजली बिल के मुद्दे पर पवार को किया फोन

Raj Thackeray
महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से बिजली के बढ़े हुए बिलों को लेकर मुलाकात की थी और राज्यपाल ने कथित तौर पर उन्हें इस संबंध में पवार से बातचीत करने के लिए कहा था। पवार ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘ राज ठाकरे फोन किया और बताया कि उन्हें राज्यपाल ने मुझसे बात करने की सलाह दी।’’

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार ने शुक्रवार को कहा कि उन्हें महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) अध्यक्ष राज ठाकरे ने फोन किया। इससे एक दिन पहले ठाकरे ने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से बिजली के बढ़े हुए बिलों को लेकर मुलाकात की थी और राज्यपाल ने कथित तौर पर उन्हें इस संबंध में पवार से बातचीत करने के लिए कहा था। पवार ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘ उन्होंने (राज ठाकरे) फोन किया और बताया कि उन्हें राज्यपाल ने मुझसे बात करने की सलाह दी।’’ 

इसे भी पढ़ें: कंगना से मुकाबले के लिए उर्मिला को अपने खेमे में लेकर आई शिवसेना, थमाया विधान परिषद का टिकट

पवार से जब यह पूछा गया कि क्या वह ठाकरे से मिलेंगे तो राकांपा प्रमुख ने कहा कि अभी इस संदर्भ में कोई निर्णय नहीं लिया गया है।  पवार ने कहा, ‘‘ मैं शहर से बाहर जा रहा हूं। इसलिए मैं अगले तीन-चार दिन यहां नहीं रहूंगा। हालांकि, उन्होंने (राज ठाकरे) सिर्फ इतना कहा कि उन्हें मुझसे बात करने की सलाह दी गई थी।’’ मनसे प्रमुख ने उपभोक्ताओं को मिल रहे बिजली के बढ़े हुए बिल के मामले में हस्तक्षेप की मांग करते हुए बृहस्पतिवार को राजभवन में कोश्यारी से मुलाकात की थी। इस बैठक के बाद उन्होंने कहा था कि राज्यपाल ने उन्हें पवार से बात करने के लिए कहा है। मनसे प्रमुख को राज्यपाल की कथित सलाह पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा प्रमुख चंद्रकांत पाटिल ने कहा था कि राज्य में पवार सरकार चला रहे हैं इसलिए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मिलने का कोई फायदा नहीं है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़