राजस्थान के धर्मेंद्र अनिजा ने शादी की सालगिरह पर पत्नी को दिया 'चांद का टुकड़ा'

राजस्थान के धर्मेंद्र अनिजा ने शादी की सालगिरह पर पत्नी को दिया 'चांद का टुकड़ा'

एक व्यक्ति ने शादी की आठवीं सालगिरह के मौके पर अपनी पत्नी को चांद पर जमीन का टुकड़ा खरीद कर गिफ्ट किया है। जिसके बाद से इस शख्स की चर्चा राजस्थान ही नहीं बल्कि पूरे देश में हो रही है।

जयपुर। लोग प्यार में तरह-तरह के वादे करते हैं। कोई बोलता है कि तुम्हें घर, बंगला, गाड़ी दिला दूंगा तो कोई बोलता है कि मैं तुम्हारे लिए चांद का टुकड़ा ला सकता हूं वगैरह वगैरह... हाल ही में कुछ ऐसा ही देखने को मिला है। आप मानो या ना मानो लेकिन राजस्थान के एक शख्स ने अपनी पत्नी को सालगिरह पर एक नायाब तोहफा दिया है। यह तोहफा अपने आप में बेहद खास है। दरअसल, एक व्यक्ति ने शादी की आठवीं सालगिरह के मौके पर अपनी पत्नी को चांद पर जमीन का टुकड़ा खरीद कर गिफ्ट किया है। जिसके बाद से इस शख्स की चर्चा राजस्थान ही नहीं बल्कि पूरे देश में हो रही है। 

इसे भी पढ़ें: चंद्रयान-2 के प्रारंभिक आंकड़े जारी, ISRO ने कहा- कृत्रिम उपग्रह चांद पर अपना काम कर रहा है 

बता दें कि राजस्थान के जिस व्यक्ति ने चांद पर जमीन का टुकड़ा खरीदा है उसका नाम धर्मेंद्र अनिजा है। धर्मेंद्र ने अपनी पत्नी को चांद पर तीन एकड़ जमीन तोहफे में दी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, धर्मेंद्र अनिजा ने बताया कि वह अपनी पत्नी को शादी की आठवीं सालगिरह पर कुछ खास तोहफा देने चाहते थे और ऐसे में ही उनके दिमाग में चांद पर जमीन खरीदने का ख्याल आया और उन्होंने जमीन खरीदकर तोहफे में दे दिया।

कैसे खरीदी जमीन

धर्मेंद्र अनिजा की 24 दिसंबर को सालगिरह थी। ऐसे में उन्होंने अपनी पत्नी सपना और से हटकर कुछ तोहफा देने की योजना बनाई और उनकी इस योजना को अंजाम तक पहुंचाने में न्यूयॉर्क शहर की एक फर्म लूना सोसाइटी इंटरनेशनल ने मदद की। इसी फर्म की मदद से धर्मेंद्र अनिजा ने तीन एकड़ जमीन खरीदी। बता दें कि चांद पर जमीन खरीदने की प्रक्रिया में धर्मेंद्र अनिजा को करीब एक साल का समय लग गया। 

इसे भी पढ़ें: चांदनी चौक में फुटपाथ बनाने की योजना 31 दिसंबर तक हो जाएगी पूरी, AAP सरकार ने HC को दी जानकारी 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जुलाई में बिहार के बोधगया में रहने वाले नीरज कुमार ने भी अपने जन्मदिन पर चांद पर एक एकड़ जमीन खरीदी थी। उन्होंने बताया कि वह हमेशा से चांद पर जाना चाहते थे लेकिन यह मुमकिन नहीं था। ऐसे में उन्होंने चांद पर जमीन खरीदने का निर्णय किया। बता दें कि नीरज कुमार ने लूना सोसाइटी इंटरनेशनल से बातचीत कर एक एकड़ जमीन खरीदने की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया था। नीरज ने एक एकड़ जमीन के लिए करीब 48 हजार रुपए अदा किए थे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...