राजनाथ ने ओडिशा में 1942 के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 17, 2019   15:55
राजनाथ ने ओडिशा में 1942 के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की

सिंह केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और भाजपा के अन्य नेताओं के साथ दोपहर करीब एक बजे यहां से करीब 50 किलोमीटर दूर स्थित इराम पहुंचे।

भद्रक (ओडिशा)। केंद्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह ने रविवार को ओडिशा के भद्रक जिले का दौरा किया और 1942 में अंग्रेज पुलिस की गोलीबारी में शहीद होने वालों को श्रद्धांजलि अर्पित की। सिंह का जिले में एक जनसभा को संबोधित करने और भाजपा के बूथ स्तरीय कार्यकर्ताओं की एक बैठक लेने का भी कार्यक्रम है।

सिंह केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और भाजपा के अन्य नेताओं के साथ दोपहर करीब एक बजे यहां से करीब 50 किलोमीटर दूर स्थित इराम पहुंचे। केंद्रीय मंत्री ने शहीद स्तंभ पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी और कहा कि हाल में पुलवामा हुए आतंकवादी हमले में शहीद होने वाले सीआरपीएफ जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘जवानों का सर्वोच्च बलिदान (पुलवामा में) व्यर्थ नहीं जाएगा।’’

यह भी पढ़ें: आपके दिलों के साथ-साथ मेरे दिल में भी आग दहक रही है: मोदी

अमृतसर में जलियांवाला बाग नरसंहार की तरह ही ओडिशा के भद्रक जिले में स्थित एक दूरदराज गांव इराम में अंग्रेज शासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के लिए एकत्रित हुई भीड़ पर अंग्रेज पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में 29 लोग मारे गए थे। सिंह ने भद्रक नगर के बाहरी इलाके में एक जनसभा को संबोधित करने के लिए जाने से पहले यहां भद्र काली मंदिर में दर्शन किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।