अमेरिका के नवनियुक्त रक्षा मंत्री की ओर से राजनाथ सिंह को आया फोन, वैश्विक मुद्दों पर हुई चर्चा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 28, 2021   08:47
अमेरिका के नवनियुक्त रक्षा मंत्री की ओर से राजनाथ सिंह को आया फोन, वैश्विक मुद्दों पर हुई चर्चा

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि अमेरिका के नवनियुक्त रक्षा मंत्री ऑस्टिन की ओर से राजनाथ सिंह को फोन कॉल आया। दोनों नेताओं ने बातचीत के दौरान ‘बहुमुखी’ रक्षा सहयोग और दोनों देशों के बीच रणनीतिक सझेदारी को मजबूत करने का अपना संकल्प दोहराया।

नयी दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को अमेरिका के नये रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन से बातचीत के दौरान क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों, विशेष रूप से हिन्द-प्रशांत घटनाक्रम को लेकर चर्चा की। पिछले सप्ताह जो बाइडन के अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने के बाद दोनों देशों की सरकारों के बीच यह पहली उच्च स्तरीय बातचीत है। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि अमेरिका के नवनियुक्त रक्षा मंत्री ऑस्टिन की ओर से राजनाथ सिंह को फोन कॉल आया। दोनों नेताओं ने बातचीत के दौरान ‘बहुमुखी’ रक्षा सहयोग और दोनों देशों के बीच रणनीतिक सझेदारी को मजबूत करने का अपना संकल्प दोहराया। 

इसे भी पढ़ें: LAC गतिरोध पर बोले राजनाथ, भारत सैनिकों की संख्या में कमी नहीं करेगा, जब तक चीन यह प्रक्रिया शुरू नहीं करता 

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, दोनों रक्षा मंत्रियों की बातचीत में विस्तृत भू-राजनैतिक घटनाक्रमों और हिन्द-प्रशांत क्षेत्र में भारत तथा अमेरिका के हितों के संदर्भ में चीन को लेकर भी चर्चा हुई। सूत्रों ने बताया कि बातचीत का सारांश यह है कि दोनों पक्ष शांति, समृद्धि और विकास के अपने साझा एजेंडे की दिशा में रणनीति और रक्षा सहयोग को आगे की ओर बढ़ाना चाहते हैं। सिंह ने कहा कि वार्ता के दौरान भारत-अमेरिका रक्षा सहयोग को प्रगाढ़ करने के लिए दृढ़ प्रतिबद्धता को दोहराया गया। 

इसे भी पढ़ें: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने इंडोनेशियाई समकक्ष से की टेलीफोन पर बात 

रक्षा मंत्री ने ट्वीट किया, ‘‘अपने अमेरिकी समकक्ष रक्षा मंत्री ऑस्टिन से बात की और उनकी नियुक्ति पर उन्हें अपनी हार्दिक शुभकामनाएं दी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने भारत-अमेरिका रक्षा सहयोग को प्रगाढ़ करने के लिए दृढ़ प्रतिबद्धता को दोहराया। हमने अपनी सामरिक भागीदारी को मजबूत बनाने के वास्ते पारस्परिक हित के क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान किया।’’ अभी यह पता नहीं चल सका है कि पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच चल रहे गतिरोध पर वार्ता के दौरान चर्चा हुई या नहीं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।