अजमेर दरगाह की विश्राम स्थली को बनाया जाएगा ‘कोरोना केयर सेंटर’ : नकवी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2021   18:50
अजमेर दरगाह की विश्राम स्थली को बनाया जाएगा ‘कोरोना केयर सेंटर’ : नकवी

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि अजमेर शरीफ दरगाह से संबंधित एक बड़ी विश्राम स्थली को अस्थायी ‘कोरोना केयर सेंटर’ के तौर पर उपयोग में लाने का फैसला किया गया है।

नयी दिल्ली। केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा है कि अजमेर शरीफ दरगाह से संबंधित एक बड़ी विश्राम स्थली को अस्थायी ‘कोरोना केयर सेंटर’ के तौर पर उपयोग में लाने का फैसला किया गया है। दरअसल, अजमेर दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान ने नकवी को पत्र लिखकर आग्रह किया था कि अजमेर के कायड़ में स्थित विश्राम स्थली को ‘कोरोना केयर सेंटर’ के इस्तेमाल करने की अनुमति दी जाए। नकवी ने मंगलवार को इस प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की। यह विश्राम स्थली 150 बीघे में बनी है।

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल चुनाव: ममता बनर्जी के करीबी TMC नेता अनुब्रत मंडल को EC ने दिया नजरबंद करने का निर्देश

अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने अमीन पठान को पत्र लिखकर कहा, ‘‘मुझे यह जानकार खुशी हुई कि मंत्रालय के अतर्गत कार्य कर रही दरगाह कमेटी ने इस संकट की घड़ी में सहयोग देना चाहती है।

इसे भी पढ़ें: उच्चतम न्यायालय ने वेदांता के तूतीकोरिन स्थित ऑक्सीजन संयंत्र के संचालन की अनुमति दी

इस मानवीय कल्याण के काम में दरगाह कमेटी के प्रस्ताव को स्वीकृति देता हूं। आप लोग राजस्थान सरकार से तत्काल संपर्क कर वहां ‘कोरोना केयर सेंटर’ शुरू कराएं।’’ उल्लेखनीय है कि नकवी ने सोमवार को 16 राज्यों के हज भवनों का इस्तेमाल अस्थायी ‘कोरोना केयर सेंटर’ के रूप में करने का फैसला किया था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।