सिंधिया ने भी माना, वर्तमान समय में पाकिस्तान के साथ बातचीत संभव नहीं

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 1 2019 2:09PM
सिंधिया ने भी माना, वर्तमान समय में पाकिस्तान के साथ बातचीत संभव नहीं
Image Source: Google

उन्होंने कहा कि क्या यह पहली बार हुआ कि भारत सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक किया हो? आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई को लेकर देश एक है, यह बीजेपी-कांग्रेस का मसला नहीं है।

नयी दिल्ली। भारत-पाक सीमा पर तनाव की पृष्ठभूमि में कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शुक्रवार को कहा कि पाकिस्तान ने बातचीत के लिए अनुकूल माहौल नहीं बनाया है और ऐसे में फिलहाल उसके साथ कोई बातचीत नहीं हो सकती। इसके साथ ही उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि भाजपा जवानों की शहादत और पाकिस्तान में आतंकी ठिकाने के खिलाफ वायुसेना की कार्रवाई का राजनीतिक फायदा उठाना चाहती है। सिंधिया ने यहां ‘इंडिया टुडे कॉनक्लेव’ में एक प्रश्न के उत्तर में कहा, ‘‘पुलवामा के बाद के घटनाक्रम पर बीजेपी नेताओं और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येद्दियुरप्पा के बयान से स्पष्ट है कि बीजेपी जवानों के शौर्य का राजनीतिक फायदा उठाना चाहती है। इसकी कड़े शब्दों में निंदा होनी चाहिए।’’

 


उन्होंने कहा कि क्या यह पहली बार हुआ कि भारत सरकार ने सर्जिकल स्ट्राइक किया हो? आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई को लेकर देश एक है, यह बीजेपी-कांग्रेस का मसला नहीं है। जब हमारा जवान पाकिस्तान के कब्जे में था, प्रधानमंत्री बूथ कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थें। कांग्रेस ने कार्य समिति की बैठक रद्द की। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह द्वारा दोनों देशों से संयम बरतने की अपील के बारे में पूछे जाने पर सिंधिया ने कहा कि पाकिस्तान के साथ बातचीत के लिए अनुकूल माहौल होना चाहिए। यह माहौल फिलहाल नहीं है। मुद्दों का हल बातचीत से होगा, लेकिन फिलहाल बातचीत के लिए माहौल नहीं है। पाकिस्तान ने अनुकूल माहौल बनाने के लिए जो करना चाहिए वो नहीं किया। ऐसे में उसके साथ फिलहाल कोई बातचीत नहीं होनी चाहिए। नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने दावा किया कि ‘असहिष्णुता के प्रति सहिष्णुता’ का माहौल पैदा हो गया है। यह भारत नहीं है। हमें पहले वाले भारत के रास्ते पर लौटना है।
 
 


सिंधिया ने कहा, ‘‘देश में दो तरह के नेता हैं। एक बहुत वादे करते हैं, लेकिन काम कम करते हैं। दूसरे वो नेता है जो वादे कम करते हैं, लेकिन काम ज्यादा करते हैं। मैं दूसरे वाले नेताओं को तवज्जो दूंगा।’’राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि इस सरकार में भारत परेशानी में है। किसान परेशान हैं और युवा परेशान हैं। इस बार सिर्फ बातों से काम नहीं चलेगा। आपको काम दिखाना होगा। जब जनता तय कर लेती है तो ये पन्ना प्रमुख और दूसरी सब चीजें उड़ जाती हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ पांच साल पहले मैं लिंचिंग (पीट-पीटकर हत्या) के बारे में नहीं सुनता था। इस सरकार में गोरक्षकों की हिंसा, लव जेहाद के बारे में सुनने को मिलता है। मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्री रहते हुए ऐसा कभी नहीं सुना जाता था।’’ पायलट ने कहा कि जिस तरह से भाजपा के सहयोगी भाग रहे हैं उससे स्पष्ट है कि भाजपा अपनी जमीन खो रही है। इसलिए हताशा में आकर वह सहयोगी तलाश कर रही है।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video