समरकंद में SCO की बैठक शुरू, LAC पर तनाव के बीच साथ दिखे PM मोदी और शी जिनपिंग

SCO meet
ANI
अंकित सिंह । Sep 16, 2022 11:10AM
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शौकत मिर्जियोयेव से मुलाकात की। जानकारी के मुताबिक इस शिखर सम्मेलन में क्षेत्रीय सुरक्षा चुनौतियों, व्यापार और ऊर्जा आपूर्ति को बढ़ावा देने समेत कई अन्य मुद्दों पर चर्चा की जानी है।

उज्बेकिस्तान के ऐतिहासिक शहर समरकंद में आज शंघाई सहयोग संगठन की बैठक शुरू हो चुकी है। इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, पाकिस्तान के प्रधान मंत्री शहबाज शरीफ, उज़्बेक राष्ट्रपति शवकत मिर्जियोयेव और अन्य नेता शामिल हो रहे हैं। यह ऐसा पहला मौका है जब एलएसी तनाव के बाद भारत और चीन के प्रमुख नेता आमने-सामने हुए हैं। गढ़वाल घाटी में भारत और चीन की सेना के बीच झड़प के बाद पहली बार नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग मुलाकात कर रहे हैं। हालांकि, दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय बैठक होगी या नहीं, इस पर अब तक विस्तृत जानकारी नहीं मिल पाई है। लेकिन माना जा रहा है कि इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सीमा सुरक्षा का मुद्दा उठा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: SCO में नरेंद्र मोदी से मिलने जा रहे हैं पुतिन, डोनाल्ड ट्रंप दे रहे हैं भारत और अमेरिका की दोस्ती की दुहाई

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उज्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शौकत मिर्जियोयेव से मुलाकात की। जानकारी के मुताबिक इस शिखर सम्मेलन में क्षेत्रीय सुरक्षा चुनौतियों, व्यापार और ऊर्जा आपूर्ति को बढ़ावा देने समेत कई अन्य मुद्दों पर चर्चा की जानी है। खबर तो यह भी है कि कोरोना महामारी के बाद यह पहला मौका है जब चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग देश से बाहर गए हैं। सीमा पर तनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शी जिनपिंग की मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है। इस मुलाकात से पहले ही दोनों देशों की ओर से एक बड़ा फैसला लिया गया। विवादित गलवान घाटी से अपने-अपने सेनाओं को पीछे हटाने पर दोनों देशों में सहमति बन गई यह प्रक्रिया शुरू भी हो चुकी है। 

इसे भी पढ़ें: SCO सम्मेलन के लिए उज्बेकिस्तान पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, चीन, पाक और रूस के राष्ट्राध्यक्ष कर रहे हैं शिरकत

हालांकि, पहले यह माना जा रहा था कि शी जिनपिंग इस बैठक में भौतिक रूप से शामिल नहीं होंगे। लेकिन अचानक ही उनके इस बैठक में शामिल होने की घोषणा हो गई। खबर तो यह भी है कि चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ आयोजित डिनर में भी शामिल नहीं हुए। मोदी आठ सदस्यीय एससीओ के शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए बृहस्पतिवार रात समरकंद पहुंचे थे। एससीओ की शुरुआत जून 2001 में शंघाई में हुई थी और इसके आठ पूर्ण सदस्य हैं, जिनमें छह संस्थापक सदस्य चीन, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, रूस, तजाकिस्तान और उजबेकिस्तान शामिल हैं। भारत और पाकिस्तान इसमें वर्ष 2017 में पूर्ण सदस्य के रूप में शामिल हुए।

अन्य न्यूज़