मेट्रो भूमि विवाद मामले में शरद पवार ने मुख्यमंत्री ठाकरे और फडणवीस से की बात, केंद्र के समक्ष उठा सकते हैं मुद्दा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 21, 2020   16:54
मेट्रो भूमि विवाद मामले में शरद पवार ने मुख्यमंत्री ठाकरे और फडणवीस से की बात, केंद्र के समक्ष उठा सकते हैं मुद्दा

एक सूत्र ने कहा, ‘‘पवार साहब ने मुख्यमंत्री और देवेंद्र फडणवीस से इस मुद्दे पर अलग-अलग बात की है।’’ सूत्र ने कहा, ‘‘नमक आयुक्त केंद्र सरकार के अधीन आते हैं। इसलिए, पवार मुद्दे के समाधान के लिए इसे केंद्र के साथ भी उठा सकते हैं।’’

मुंबई। राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने मुंबई में कांजुरमार्ग मेट्रो कार शेड भूमि विवाद को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस से बात की है और वह मुद्दे को सुलझाने के लिए इसे केंद्र के साथ उठा सकते हैं। यह जानकारी सूत्रों ने सोमवार को दी। ठाकरे ने रविवार को कहा कि वह केंद्र के साथ बातचीत के माध्यम से भूमि विवाद को सुलझाने के लिए तैयार हैं। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि यह उनके लिए ‘‘अहम् का मुद्दा’’ नहीं है। सूत्रों के मुताबिक, पवार ने रविवार को ठाकरे और फडणवीस से अलग-अलग बात की। 

इसे भी पढ़ें: उद्धव ठाकरे का केंद्र सरकार पर आरोप, बोले- मेट्रो कार शेड भूमि मुद्दे पर राज्य के खिलाफ अदालत का किया रुख 

एक सूत्र ने कहा, ‘‘पवार साहब ने मुख्यमंत्री और देवेंद्र फडणवीस से इस मुद्दे पर अलग-अलग बात की है।’’ सूत्र ने कहा, ‘‘नमक आयुक्त केंद्र सरकार के अधीन आते हैं। इसलिए, पवार मुद्दे के समाधान के लिए इसे केंद्र के साथ भी उठा सकते हैं।’’ बम्बई उच्च न्यायालय ने एकीकृत मेट्रो कार शेड के निर्माण के लिए कांजुरमार्ग क्षेत्र में 102 एकड़ साल्ट पैन भूमि आवंटित करने के मुंबई उपनगरीय जिलाधिकारी के आदेश पर रोक लगा दी है। अदालत ने साथ ही अधिकारियों को उस भूमि पर कोई भी निर्माण कार्य करने से भी रोक दिया है। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली मेट्रो में यात्रा हुई मुश्किल, यात्रियों में बढ़ रही नाराजगी 

केंद्र और शिवसेना के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र सरकार के बीच मेट्रो कार शेड के निर्माण के लिए राज्य द्वारा निर्धारित भूमि के स्वामित्व को लेकर टकराव है, जो पहले उपनगरीय गोरेगांव स्थित एक हरित क्षेत्र आरे कॉलोनी में योजनाबद्ध था। फडणवीस की अगुवाई वाली राज्य की पिछली सरकार ने मुंबई मेट्रो लाइन 3 के लिए आरे कॉलोनी में कार शेड का निर्माण करने का फैसला किया था, हालांकि पर्यावरणविद और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने परियोजना के लिए बड़ी संख्या में पेड़ काटने का विरोध किया था। ठाकरे के नेतृत्व वाली वर्तमान राज्य सरकार ने कार शेड को आरे कॉलोनी से कांजुरमार्ग स्थानांतरित करने का हाल ही में निर्णय लिया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।