शरद यादव ने भाजपा के घोषणापत्र को ‘वादों की एक और बरसात’ बताया

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 9 2019 3:53PM
शरद यादव ने भाजपा के घोषणापत्र को ‘वादों की एक और बरसात’ बताया
Image Source: Google

शरद यादव ने कहा कि ‘मैं जनता का आह्वान करता हूं कि भाजपा को नकार दें। इस पार्टी को पता नहीं कि शासन कैसे करते हैं। इसके बजाय उसने देशभर में नफरत का माहौल बना दिया और और अर्थव्यवस्था को बुरी तरह नुकसान पहुंचा रही है।’

मधेपुरा। भाजपा पर 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान किया गया कोई बड़ा वादा पूरा नहीं करने का आरोप लगाते हुए विपक्षी नेता शरद यादव ने मंगलवार को आगामी चुनाव के लिए सत्तारूढ़ पार्टी के घोषणापत्र को ‘वादों की एक और बरसात’ बताया और लोगों से भाजपा को नकारने को कहा। बिहार की मधेपुरा सीट से राजद के टिकट पर किस्मत आजमा रहे यादव ने एक बयान में कहा कि उन्होंने अपने लंबे राजनीतिक कॅरियर में कभी ऐसा माहौल नहीं देखा जो उन्होंने 2014 में देखा और अब देख रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: बिहार में महागठबंधन की सीटों का बंटवारा, RJD की टिकट पर मधेपुरा से चुनाव लड़ेंगे यादव

उन्होंने कहा, ‘‘मैं जनता का आह्वान करता हूं कि भाजपा को नकार दें। इस पार्टी को पता नहीं कि शासन कैसे करते हैं। इसके बजाय उसने देशभर में नफरत का माहौल बना दिया और और अर्थव्यवस्था को बुरी तरह नुकसान पहुंचा रही है।’’ यादव ने कहा कि भाजपा ने काला धन वापस लाने का और प्रत्येक नागरिक को 15 लाख रुपये देने का वादा किया था। दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने तथा गंगा नदी की सफाई का वादा किया था लेकिन एक भी वादा पूरा नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि 2019 के घोषणापत्र में भाजपा ने इन वादों को पूरा नहीं करने का कोई उल्लेख नहीं किया है और अब 75 और वादे कर दिये।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Video