गुजरात के उपमुख्यमंत्री की ओर जूता फेंका गया, भाजपा ने कांग्रेस का हाथ बताया

Gujrat Deputy Chief Minister
पुलिस ने इस घटना की जांच शुरू कर दी है वहीं सत्ताधारी भाजपा ने इस मामले के लिए कांग्रेस को दोषी ठहराया। हालांकि विपक्षी दल ने इस आरोप को खारिज कर दिया। वड़ोदरा जिले के कर्जन तालुका के तहत कुरली गांव में सोमवार शाम को हुई यह घटना टीवी कैमरों में कैद हो गयी।
अहमदाबाद। गुजरात के उप मुख्यमंत्री नितिन पटेल सोमवार को वडोदरा जिले में एक चुनावी रैली के बाद जब मीडिया से बातचीत कर रहे थे, उसी दौरान एक अज्ञात व्यक्ति ने उनकी ओर एक जूता फेंक दिया। हालांकि जूता पटेल से कुछ इंच की दूरी पर गिरा। पुलिस ने इस घटना की जांच शुरू कर दी है वहीं सत्ताधारी भाजपा ने इस मामले के लिए कांग्रेस को दोषी ठहराया। हालांकि विपक्षी दल ने इस आरोप को खारिज कर दिया। वड़ोदरा जिले के कर्जन तालुका के तहत कुरली गांव में सोमवार शाम को हुई यह घटना टीवी कैमरों में कैद हो गयी। वहां भाजपा ने अपने उम्मीदवार अक्षय पटेल के समर्थन में एक जनसभा का आयोजन किया था। कर्जन सहित आठ विधानसभा क्षेत्रों में तीन नवंबर को उपचुनाव होने हैं। जब पटेल रैली के बाद मंच के पास मीडियाकर्मियों से बातचीत कर रहे थे, उसी दौरान किसी ने पीछे से उनकी ओर जूता फेंका। जूता टीवी चैनलों के माइक पर गिरा। पटेल ने इस मामले को ज्यादा तवज्जो नहीं देने का प्रयास किया। वहीं प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता प्रशांत वला ने इस घटना के लिए कांग्रेस को दोषी ठहराया। 

इसे भी पढ़ें: PM मोदी 30 अक्टूबर से दो दिन के गुजरात दौरे पर होंगे, 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' जाकर सरदार पटेल को देंगे श्रद्धांजलि

उन्होंने कहा, हार को देखते हुए कांग्रेस इस स्तर तक गिर गई है। वास्तव में यह कांग्रेस के किसी कार्यकर्ता का काम था। कांग्रेस प्रवक्ता जयराजसिंह परमार ने पलटवार करते हुए कहा कि यह किसी असंतुष्ट भाजपा कार्यकर्ता का काम हो सकता है। उन्होंने दावा किया कि रैली में मौजूद सभी लोग भाजपा कार्यकर्ता और समर्थक थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़