भाजपा के मंच पर ‘सिराज और जय श्री राम’ साथ में होते हैं: कैलाश विजयवर्गीय

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 26, 2020   14:46
भाजपा के मंच पर ‘सिराज और जय श्री राम’ साथ में होते हैं: कैलाश विजयवर्गीय

विजयवर्गीय ने दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच यही अंतर है कि प्रधानमंत्री जहां सभी को साथ लेकर चलते हैं, वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री वर्ग विशेष की वकालत करती हैं।

मेचेडा (पश्चिम बंगाल)। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनावों से पहले मुस्लिम मतदाताओं से कड़ी जोड़ने का प्रयास करते हुए वरिष्ठ भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने बुधवार को कहा कि पार्टी की विशेषता यही है कि इसके मंच पर ‘सिराज और जय श्री राम’ साथ में होते हैं। ‘सिराज’ आमतौर पर मुस्लिम परिवारों में लड़कों का नाम होता है जिसका अर्थ रोशनी या दीपक होता है। विजयवर्गीय ने दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच यही अंतर है कि प्रधानमंत्री जहां सभी को साथ लेकर चलते हैं, वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री वर्ग विशेष की वकालत करती हैं। भाजपा अक्सर बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस पर अल्पसंख्यक समुदाय के तुष्टीकरण का आरोप लगाती रही है।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और पश्चिम बंगाल के पार्टी प्रभारी ने पूर्व मेदिनीपुर जिले में यहां पार्टी की एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘यह भारतीय जनता पार्टी का मंच है, जहां सिराज और जय श्री राम साथ में रह सकते हैं। यही पार्टी की विशेषता है।’’ राज्य में अगले साल अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने हैं। राज्य में करीब 30 फीसदी मुस्लिम आबादी है। विजयवर्गीय ने कहा, ‘‘मोदीजी कहते हैं ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास’। यही भाजपा का मंत्र है।’’ रैली में बड़ी संख्या में तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ता भाजपा में शामिल हुए। भाजपा नेता ने दावा किया कि मोदी गरीबों के कल्याण की सोचते हैं, वहीं बनर्जी उनका शोषण करती हैं। 

इसे भी पढ़ें: ममता ने भाजपा को दी चुनौती, कहा- हिम्मत है तो मुझे गिरफ्तार करें, जेल से भी जीतूंगी चुनाव

विजयवर्गीय ने दावा किया कि प्रधानमंत्री ने महामारी की कठिनाइयों से निपटने के लिए हर नागरिक को हर महीने पांच किलोग्राम सब्जी भिजवाई, लेकिन राज्य में सिंडीकेटों ने इसे बाजार में बेच डाला। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मोदीजी ने कोविड-19 से पीड़ित लोगों के उपचार के लिए 2,000 करोड़ रुपये भेजे, लेकिन ममता बनर्जी सरकार ने धन का दुरुपयोग किया।’’ भाजपा नेता ने इस आरोप को भी दोहराया कि केंद्र द्वारा तूफान अम्फान राहत के लिए दिये गये 1,000 करोड़ रुपये के कोष को राज्य के सिंडीकेटों ने लूट लिया। विजयवर्गीय ने यह दावा भी किया कि भाजपा सरकार ही महिलाओं के सम्मान की गारंटी दे सकती है। उन्होंने पश्चिम बंगाल की जनता से आग्रह किया कि विधानसभा चुनाव में भाजपा को सत्ता में लाने के लिए वोट दें।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।