Sonali Phogat Death | बाथरूम से ड्रग्स जब्त करने के बाद गोवा क्लब का मालिक गिरफ्तार, अब तक 4 आरोपी पुलिस हिरासत में

Sonali Phogat
ANI
रेनू तिवारी । Aug 27, 2022 10:21AM
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नेता सोनाली फोगाट के ड्रिंक में उनके दो सहयोगियों ने एक पार्टी के दौरान नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाया था। संभवत: इसके चलते फोगाट की मौत हुई। यह दोनों फोगाट ‘हत्याकांड’ में आरोपी हैं।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नेता सोनाली फोगाट के ड्रिंक में उनके दो सहयोगियों ने एक पार्टी के दौरान नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाया था। संभवत: इसके चलते फोगाट की मौत हुई। यह दोनों फोगाट ‘हत्याकांड’ में आरोपी हैं। गोवा पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी थी। इसके अलावा गोवा पुलिस ने शनिवार को हरियाणा बीजेपी नेता सोनाली फोगट की मौत के मामले में एक क्लब के मालिक और ड्रग तस्कर समेत दो और लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने क्लब के वॉशरूम से ड्रग्स भी बरामद किया है।

इसे भी पढ़ें: Twitter War | स्कूल के मुद्दों पर हिमंत बिस्वा सरमा और केजरीवाल के बीच ट्विटर पर बहस, दिल्ली के CM बोले- सरकारी स्कूल देखने कब आऊं?

गोवा पुलिस ने कहा कि सोनाली फोगट को नशीला पदार्थ दिया गया था, और सीसीटीवी फुटेज में भाजपा नेता को पब के अंदर लंगड़ाते हुए, मौत के मामले में नए रहस्य जोड़ते हुए दिखाया गया है। सोनाली फोगट के दो सहयोगियों, सुधीर सांगवान और सुखविंदर वासी को पहले हत्या के मामले में गिरफ्तार किया गया था।

इसे भी पढ़ें: गुलाम नबी आजाद के बाद क्या अब मनीष तिवारी की बारी? कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व को लेकर कही यह बातें

कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नेता सोनाली फोगाट की कथित हत्या की जांच केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) से कराने की शनिवार को मांग की। पार्टी ने आरोप लगाया कि पुलिस मामले को रफा-दफा करने की कोशिश कर रही है। फोगाट की मंगलवार को गोवा में रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई थी, जिसके बाद राज्य पुलिस ने उनके निजी सहायक सहित दो लोगों को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। 

गोवा विधानसभा में विपक्ष के नेता माइकल लोबो ने कहा, ‘‘कई नेताओं ने कहा कि उनकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई थी, लेकिन अंत में उनकी हत्या किए जाने की बात सामने आई है। हत्या के इस मामले में जो सामने दिखाई दे रहा है, उसके अलावा भी बहुत कुछ छिपा है। हर पहलू की जांच किए जाने की जरूरत है। सच्चाई का पता लगाने के लिए इस तरह के मामलों की सीबीआई से जांच कराए जाने की आवश्यकता है।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि फोगाट (42) की हत्या के पीछे की वजह ‘‘आर्थिक हित’’ हो सकता है। उन्होंने कहा कि दोनों आरोपियों - सुधीर सांगवान और सुखविंदर सिंह - को गिरफ्तार कर लिया गया है ताकि वे सबूतों से छेड़छाड़ और गवाहों को प्रभावित नहीं कर सकें। पुलिस महानिरीक्षक ओमवीर सिंह बिश्नोई ने बताया कि दोनों आरोपी पेय पदार्थ में ‘‘कुछ रासायनिक पदार्थ’’ मिलाते देखे गए थे, जिसे अंजुना के रेस्तरां में हुई पार्टी में फोगाट को पिलाया गया। सांगवान और सिंह 22 अगस्त को फोगाट के साथ गोवा गए थे। बिश्नोई ने बताया कि आरोपियों ने पुलिस पूछताछ के दौरान उत्तरी गोवा में अंजुना के रेस्तरां में फोगाट को जानबूझकर नशीला पदार्थ पिलाने की बात स्वीकार की है। यह घटना 22-23 अगस्त की मध्यरात्रि की है। 

उन्होंने कहा कि अंजुना पुलिस ने हिरासत में लिए गए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि जांच अधिकारी ने रेस्तरां की सीसीटीवी फुटेज की पड़ताल की, जिसमें पाया गया कि सांगवान ने कथित तौर पर जबरन फोगाट को पेय पदार्थ पिलाया। उन्होंने कहा कि 23 अगस्त को तड़के करीब 4:30 बजे दोनों आरोपी फोगाट को प्रसाधन कक्ष (वॉशरूम) ले गए थे, जहां तीनों लोग दो घंटे तक अंदर ही रहे थे। बिश्नोई ने कहा कि हिरासत में पूछताछ के बाद ही यह पता चल पाएगा कि उन दो घंटे के दौरान क्या हुआ था। उन्होंने कहा कि पार्टी के दौरान आरोपियों के साथ दो महिलाएं भी थीं और इन्हें केक काटते देखा गया था। पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि दोनों महिलाओं से भी पूछताछ की जा रही है। 

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में फोगाट के शव पर ‘‘चोट के कई निशान’’ होने से जुड़े सवाल पर बिश्नोई ने कहा कि आरोपियों ने पूछताछ में कहा है कि फोगाट को अस्पताल ले जाने के दौरान खंरोच लगने के कारण ऐसा हो सकता है। उन्होंने कहा कि फोगाट को अस्पताल ले जाने पर उनके शरीर पर चोट के कोई निशान नजर नहीं आ रहे थे इसलिए चिकित्सकों ने संदेह जताया था कि मौत का कारण दिल का दौरा पड़ना हो सकता है।

अन्य न्यूज़