अमरोहा में योगी आदित्यनाथ ने कसा तंज, बोले- सपा को UP के विकास से नहीं बल्कि अपने विकास से होता था मतलब

अमरोहा में योगी आदित्यनाथ ने कसा तंज, बोले- सपा को UP के विकास से नहीं बल्कि अपने विकास से होता था मतलब

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी की पहचान भ्रष्टाचार से युक्त प्रदेश के तौर पर होती थी। हमारी सरकार में जितने लोगों को नौकरी मिली है, किसी को भी एक रुपए की रिश्वत नहीं देनी पड़ी। सभी को योग्यता के आधार पर नौकरी मिली।

अमरोहा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को अमरोहा में पूर्ववर्ती अखिलेश सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी को प्रदेश में विकास से कोई लेना-देना नहीं था उन्हें सिर्फ़ अपने विकास से मतलब होता था। उनके दौर में विकास की योजना आती थी तो बंदरबांट होने लगता था। जनता तक तो पहुंचता ही नहीं था। 

इसे भी पढ़ें: UP में विकास को नई पहचान देगा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का तीसरा चरण 

दंगा करने पर संपत्ति होगी ज़ब्त

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले उत्तर प्रदेश की पहचान दंगाइयों को संरक्षण देने की होती थी। पिछले साढ़े चार साल में उत्तर प्रदेश में एक भी दंगा नहीं हुआ। दंगाइयों को इस सरकार की स्पष्ट चेतावनी है। उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश में दंगा करोगे तो संपत्ति ज़ब्त होगी। सार्वजनिक संपत्ति, गरीब के मकान को जलाओगे तो सात पीढ़ियां भुगतान करते-करते थक जाएंगी लेकिन उसकी भरपाई नहीं कर पाओगे।

उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाला है। ऐसे में तमाम राजनीतिक दलों ने अपनी-अपनी रणनीतियां बनाना शुरू कर दिया है। इसी बीच अमरोहा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि 433 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का गिफ्ट आज अमरोहा को एक साथ मिल रहा है। मैं विकास के पुनीत कार्य के लिए जनप्रतिनिधियों के साथ आप सभी को हृदय से धन्यवाद देता हूं। 

इसे भी पढ़ें: मुरादाबाद में दलित बहनों को जिंदा जलाने के मामले में सात लोगों को उम्र कैद 

UP ने सारे मिथक तोड़ दिए

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले कहा जाता था, जहां से गड्ढे शुरु हो, समझो उत्तर प्रदेश आ गया। जहां से अंधेरा प्रारंभ हो, समझो उत्तर प्रदेश आ गया। आज उत्तर प्रदेश ने इन सारे मिथक को तोड़ा है। फोर लेन के साथ गांवों में बेहतर सड़कों का निर्माण युद्ध स्तर पर चल रहा है। इसी बीच उन्होंने कहा कि यूपी की पहचान भ्रष्टाचार से युक्त प्रदेश के तौर पर होती थी। हमारी सरकार में जितने लोगों को नौकरी मिली है, किसी को भी एक रुपए की रिश्वत नहीं देनी पड़ी। सभी को योग्यता के आधार पर नौकरी मिली।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...