• कर्नाटक मामले में सुब्रमण्यम स्वामी ने भाजपा नेतृत्व को चेताया, कहा- येदियुरप्पा ही पार्टी को सत्ता में लाए थे

राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि येदियुरप्पा ही थे जो सबसे पहले कर्नाटक में भाजपा को सत्ता में लाये थे। कुछ ने उन्हें हटाने की साजिश रची क्योंकि वह चमचा नहीं हो सकते हैं।

बेंगलुरु। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने बीएस येदियुरप्पा को कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद से हटाने के खिलाफ पार्टी नेतृत्व को बुधवार को आगाह किया। राज्यसभा सदस्य स्वामी ने ट्वीट किया, ‘‘येदियुरप्पा ही थे जो सबसे पहले कर्नाटक में भाजपा को सत्ता में लाये थे। कुछ ने उन्हें हटाने की साजिश रची क्योंकि वह चमचा नहीं हो सकते हैं। उनके बिना, पार्टी राज्य में सत्ता में नहीं लौट सकती। केवल उनके भाजपा में लौटने पर पार्टी फिर से जीती। वही गलती क्यों दोहराएं?’’ 

इसे भी पढ़ें: कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा की होगी विदाई? उत्तराधिकारी के नाम पर कयास 

लिंगायत नेता येदियुरप्पा को सुब्रमण्यम स्वामी का समर्थन मिला है। वहीं लिंगायत मठों के कई संतों ने भी मुख्यमंत्री को पद से हटाने की अटकलों के बीच उनका समर्थन करना शुरू कर दिया है। नेतृत्व परिवर्तन की अटकलें कुछ समय से चल रही हैं और इसे पिछले हफ्ते येदियुरप्पा के दिल्ली दौरे के बाद और बल मिला था। येदियुरप्पा ने हालांकि इन अटकलों को निराधार बताते हुए उन्हें सिरे से खारिज कर दिया है।