CM योगी की अधिकारियों को दो टूक, बोले- अपराधियों पर करें सख्त कार्रवाई, कोताही बर्दाश्त नहीं

Yogi Adityanath
ANI Image
सीएम योगी आदित्यनाथ ने मण्डलायुक्त रवि कुमार एनजी एवं एडीजी अखिल कुमार को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए। कहा कि महिला अपराध के मामले को पूरी संवेदनशीलता के साथ देखा जाए। ऐसे मामलों में अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। सीएम ने जनता दर्शन में सौ से अधिक फरियादियों की समस्याएं सुनीं।

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को दो टूक हिदायत देते हुए कहा कि अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। इसमें किसी भी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। महिला अपराध के अपराधियों पर मुकदमा पंजीकृत दर्ज कर उनकी तत्काल गिरफ्तारी सुनिश्चित होनी चाहिए। साथ ही अधिकारी अनुसंधान व अभियोजन की प्रक्रिया जल्द पूर्ण कर अपराधियों को सजा दिलाने की प्राथमिकता रखें। मुख्यमंत्री सोमवार सुबह गोरखनाथ मंदिर के हिंदू सेवाश्रम में आयोजित जनता दर्शन में फरियादियों की समस्याएं सुन रहे थे। बस्ती जिले से आई महिला ने अपनी 14 साल की बेटी के साथ दुष्कर्म और उसे जख्मी करने का मामला उठाया।

इसे भी पढ़ें: भूपेंद्र चौधरी की योगी आदित्यनाथ ने जमकर की तारीफ, हाल में ही बनाया गया है यूपी भाजपा का अध्यक्ष

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मण्डलायुक्त रवि कुमार एनजी एवं एडीजी अखिल कुमार को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए। कहा कि महिला अपराध के मामले को पूरी संवेदनशीलता के साथ देखा जाए। ऐसे मामलों में अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। सीएम ने जनता दर्शन में सौ से अधिक फरियादियों की समस्याएं सुनीं।

बच्चों को चॉकलेट संग मिला सीएम योगी का प्यार-दुलार

जनता दर्शन में अपनी माताओं के साथ आए नन्हे मुन्ने बच्चों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का स्प्यार-दुलार व आशीर्वाद मिला। उन्होंने बच्चों का हालचाल पूछा, उन्हें चाकलेट भी गिफ्ट किया। बच्चों के साथ यूं घुलते मिलते देख उनकी माताएं भी प्रफुल्लित थीं।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की युवाओं से अपील, बोले- नशे के कारोबार के खिलाफ निर्णायक लड़ाई से जुड़ें

दर्शन-पूजन के बाद गोसेवा भी की मुख्यमंत्री ने

सीएम योगी ने जनता दर्शन में आने के पूर्व गुरु गोरखनाथ का दर्शन-पूजन किया। उसके बाद ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की समाधि पर माथा टेक आशीर्वाद लिया। भ्रमण करते हुए गोशाला पहुंचे जहां उन्होंने तकरीबन 10 मिनट तक गोसेवा की। गायों को चना और गुड़ खिलाया। उसके बाद वापस लौटे तो साधना कक्ष की ओर अपने श्वान कालू एवं गुल्लू को दुलार किया।

अन्य न्यूज़