भाजपा और शिवसेना के बीच बनी बात, एक साथ लड़ेंगे चुनाव

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Feb 18 2019 8:54PM
भाजपा और शिवसेना के बीच बनी बात, एक साथ लड़ेंगे चुनाव
Image Source: Google

प्रेस को संबोधित करते हुए देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि भाजपा और शिवसेना ने आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनाव में साथ रहने का फैसला लिया है।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने सोमवार को शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से मुलाकात की। दोनों दल आगामी चुनाव के लिए गठबंधन बरकरार रखेंगे। जयपुर से यहां आने के बाद शाह ने लक्जरी होटल में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की और उपनगर बांद्रा में शिवसेना प्रमुख के आवास मातोश्री गए। बाद में दोनों से साझा प्रेस वार्ता किया। दोनों नेताओं के साथ महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस भी थे। प्रेस को संबोधित करते हुए देवेन्द्र फडणवीस ने कहा कि भाजपा और शिवसेना ने आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनाव में साथ रहने का फैसला लिया है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता चाहती है कि भाजपा और शिवसेना साथ आएं, सैद्धांतिक रूप से दोनों दल हिन्दुत्व-समर्थक हैं। उन्होने कहा कि महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों में से भाजपा 25 जबकि शिवसेना 23 सीटों पर चुनाव लड़ेगी।

 


फडणवीस ने कहा कि भाजपा और शिवसेना 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा के लिए इस वर्ष होने वाले चुनाव में बराबर-बराबर सीटों पर उम्मीदवार उतारेंगी। फडणवीस ने शिवसेना-भाजपा गठबंधन पर कहा पर कहा कि जनता के हित में राष्ट्रवादी विचारधारा वाली पार्टियां साथ आयी हैं। इस मौके पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि भाजपा और शिवसेना के करोड़ों कार्यकर्ता दोनों दलों के बीच गठबंधन चाहते थे, शिवसेना भाजपा की सबसे पुरानी सहयोगी है।
 
अमित शाह ने कहा कि भाजपा और शिवसेना गठबंधन महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों में से कम से कम 45 पर जीतेगी। अमित शाह के साथ संयुक्त रूप से संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि भाजपा और शिवसेना के बीच गठबंधन के लिए राम मंदिर साझा सूत्र है, उसका निर्माण यथाशीघ्र किया जाये। 


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video