पीएम मोदी को तथागत रॉय ने दी सलाह, बोले- जनता को समझाएं कि ममता से कोई सेटिंग नहीं

Tathagata Roy with suvendu
ANI
अंकित सिंह । Aug 05, 2022 8:43PM
धानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिए सलाह में तथागत रॉय ने साफ तौर पर कहा था कि आपको जनता को यह समझाना होगा कि आपके और ममता बनर्जी के बीच किसी तरह की कोई सेटिंग नहीं है। आपको बता दें कि ममता बनर्जी की असली दौरा ऐसे समय में हो रहा है जब वह खुद ही घिरी हुई हैं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस के नेता ममता बनर्जी आज दिल्ली दौरे पर हैं। उन्होंने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है। हालांकि, इस मुलाकात से पहले ही पश्चिम बंगाल में भाजपा के पूर्व नेता रहे तथागत रॉय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक सलाह दे दी थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिए सलाह में तथागत रॉय ने साफ तौर पर कहा था कि आपको जनता को यह समझाना होगा कि आपके और ममता बनर्जी के बीच किसी तरह की कोई सेटिंग नहीं है। आपको बता दें कि ममता बनर्जी की असली दौरा ऐसे समय में हो रहा है जब वह खुद ही घिरी हुई हैं। दरअसल, बंगाल में शिक्षक भर्ती घोटाले को लेकर ममता के मंत्री रहे पार्थ चटर्जी फिलहाल ईडी की हिरासत में हैं। 

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल में ममता कैबिनेट का हुआ विस्तार, 9 नए मंत्रियों ने ली शपथ, बाबुल सुप्रियो भी शामिल

दावा तो यह भी किया जा रहा है कि आने वाले दिनों में तृणमूल कांग्रेस के कई नेता भी इस लपेटे में आ सकते हैं। अपने ट्वीट में तथागत रॉय ने लिखा कि कोलकाता में सेटिंग को लेकर काफी चर्चा है। इसका अनुमान लगाया जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी और ममता बनर्जी के बीच कोई सीक्रेट अंडरस्टैंडिंग हुई है। उन्होंने आगे लिखा किया ऐसा है तो क्या तृणमूल कांग्रेस के हत्यारे और चोर इसी तरह खुला घूमेंगे। इसलिए कृपया हम लोगों को यह भरोसा दिलाएं कि ऐसी कोई सेटिंग नहीं है। अपनी इस ट्वीट को तथागत रॉय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और प्रधानमंत्री कार्यालय को भी टैग किया है। इससे पहले पश्चिम बंगाल के पूर्व भाजपा अध्यक्ष और वर्तमान में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने भी एक ट्वीट के जरिए केंद्र को आगाह किया था।

इसे भी पढ़ें: ED ने कहा- जांच में सहयोग नहीं कर रहे पार्थ चटर्जी, शुभेंदु अधिकारी बोले- सारा पैसा TMC और ममता बनर्जी का

अपने ट्वीट में दिलीप घोष ने लिखा था कि ममता ऐसी मुलाकातों का इस्तेमाल राजनीतिक संदेश देने के लिए करती हैं। उन्होंने यह भी कहा था कि केंद्र सरकार को इस बात पर ध्यान देना चाहिए और ममता के झांसे में नहीं आना चाहिए। आपकों बता दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और अपने राज्य से संबंधित कई मुद्दों को उठाया, जिसमें जीएसटी बकाया और केंद्र द्वारा विभिन्न योजनाओं के तहत समय पर धन जारी करना शामिल है। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने करीब एक घंटे तक हुई बैठक की एक तस्वीर साझा की है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़