दिल्ली में चल रहे बुलडोजर पर तेजस्वी ने उठाए सवाल, जवाब में बोले अठावले- हटाया जा रहा अवैध अतिक्रमण

दिल्ली में चल रहे बुलडोजर पर तेजस्वी ने उठाए सवाल, जवाब में बोले अठावले- हटाया जा रहा अवैध अतिक्रमण
ANI

तेजस्वी यादव ने कहा कि देश में चर्चा बुलडोजर और लाउडस्पीकर पर की जा रही है, ये मुद्दा नहीं है। उन्होंने कहा कि एक एजेंसी की रिपोर्ट है कि दिल्ली में लगभग 80-90% निर्माण अवैध है तो क्या पूरी दिल्ली पर बुलडोजर चलाया जाएगा। बेरोजगारी और महंगाई से ध्यान हटाने के लिए ये सब हो रहा है।

दिल्ली में लगातार अवैध अतिक्रमण के खिलाफ बुलडोजर की कार्रवाई जारी है। आज दिल्ली में शाहीन बाग के इलाके में बुलडोजर की कार्रवाई हुई। दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में हो रही बुलडोजर कार्रवाई को लेकर राजनीति भी खूब गर्म है। विपक्षी दल इसको लेकर भाजपा पर निशाना साध रहे हैं। विपक्ष का दावा है कि बुलडोजर के जरिए भाजपा एक समुदाय के लोगों को निशाना बना रही है। वहीं भाजपा लगातार अवैध अतिक्रमण को हटाने का दावा कर रही है। आज दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में बुलडोजर चला तो देश के अलग-अलग नेताओं ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया भी दी है। बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और राजद नेता तेजस्वी यादव ने दिल्ली में चल रहे अतिक्रमण को लेकर सवाल उठाएं।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली के शाहीन बाग में अतिक्रमण के खिलाफ SDMC की कार्रवाई, बुलडोजर के सामने बैठे लोग, कुछ महिलाओं को हिरासत में लिया

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक तेजस्वी यादव ने कहा कि देश में चर्चा बुलडोजर और लाउडस्पीकर पर की जा रही है, ये मुद्दा नहीं है। उन्होंने कहा कि  एक एजेंसी की रिपोर्ट है कि दिल्ली में लगभग 80-90% निर्माण अवैध है तो क्या पूरी दिल्ली पर बुलडोजर चलाया जाएगा। बेरोजगारी और महंगाई से ध्यान हटाने के लिए ये सब हो रहा है। तेजस्वी का जवाब केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने दिया। रामदास अठावले ने दावा किया है कि दिल्ली में बुलडोजर अवैध अतिक्रमण को हटाने के लिए चलाए जा रहा है। अपने बयान में अठावले ने कहा कि भारत सरकार ने 2-3 साल पहले दिल्ली में अवैध तरह से बने घरों, कॉलोनियों को वैध किया है, उन पर बुलडोजर चलाने का विषय नहीं है। विषय है उन घरों और संपत्तियों का जो अवैध तरह से बने हैं। उन संपत्ती और घरों को हटाया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट ने शाहीन बाग मामले पर सुनवाई करने से किया इनकार, माकपा ने वापस ली याचिका

अतिक्रमण रोधी अभियान

अतिक्रमण रोधी अभियान को अंजाम देने के लिए दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) के अधिकारियों के बुलडोजर के साथ सोमवार को नगर के शाहीन बाग इलाके में पहुंचते ही महिलाओं सहित सैकड़ों स्थानीय लोगों ने विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया। प्रदर्शन के बाद एसडीएमसी के अधिकारी बिना कोई कार्रवाई किए बुलडोजर के साथ लौट गए। प्रदर्शनकारियों ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शासित एसडीएमसी और केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और कार्रवाई रोकने की मांग की। कुछ महिलाएं बुलडोजर के सामने आकर खडी़ हो गईं। इससे पहले दिन में, आम आदमी पार्टी (आप) और कांग्रेस के नेता भी मौके पर पहुंचे और कार्रवाई के खिलाफ धरना दिया। विरोध-प्रदर्शन के कारण शाहीन बाग, कालिंदी कुंज, जैतपुर, सरिता विहार और मथुरा रोड सहित अन्य क्षेत्रों में भारी जाम लग गया।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।