गांवों के विकास के लिए सरकार के पास धन की कोई कमी नही-- दुष्यंत चौटाला

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 30, 2022   19:16
गांवों के विकास के लिए सरकार के पास धन की कोई कमी नही-- दुष्यंत चौटाला

सिंघानी क्रांतिकारी वीरों की एतिहासिक भूमि है। यहां के निवासियों के वीरता के अनेक किस्से प्रचलित हैं। उन्होंने कहा कि यहां के बहादुर लोगों ने नवाबी शासन के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की और 23 लोगों ने नवाब के खिलाफ लड़ते हुए अपनी कुर्बानी दी। जिला भिवानी में सडक़ों के निर्माण पर करीब 960 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जा रही है।

चंडीगढ़ ।  उप मुख्यमंत्री  दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हिसार से वाया तोशाम, बाढड़ा, सतनाली, रेवाड़ी नेशनल हाई-वे बनने से प्रदेश में विकास के नए द्वार खुलेंगे, इसके साथ-साथ इस हाइवे से दक्षिणी हरियाणा का भी चहुंमुखी विकास होगा। केंद्रीय सडक़-परिवहन मंत्री  नितिन गडकरी द्वारा स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है, जिसकी जल्द ही डीपीआर बनेगी। उन्होंने कहा कि ग्रामीण विकास के लिए सरकार के पास धन की कोई कमी नही है। गांवों में शहरों जैसी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

 

उपमुख्यमंत्री बुधवार को भिवानी जिला के गांव सिंघानी में शहीद स्मारक एवं पार्क के उद्घाटन अवसर ओर आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उपमुख्यमंत्री ने गांव सिंघानी से ढाणी राठी तक जाने वाली सडक़ मार्ग का शिलान्यास भी किया। उन्होंने गांव में सात लाख 38 हजार रुपए की लागत से बनी सामान्य चौपाल व 46.35 लाख रुपए की लागत से बने स्टेडियम और दस लाख रुपए की लागत से बने शहीद स्मारक एवं पार्क, नहर से जोहड़ तक 18.74 लाख रुपए की लागत से डाली गई पाईप लाईन कार्य, 35 लाख रुपए की लागत से भिवानी व सिवानी रोड़ के दोनों तरफ फुटपाथ, साढ़े आठ रुपए की लागत से ढाणी राठी से श्मशान घाट तक गली का निर्माण, पांच लाख रुपए की लागत से बने सामान्य चौपाल से हसनपुर रोड़ आदि परियोजनाओं का उद्घाटन किया।

 

इसे भी पढ़ें: निवेश के लिए स्वर्ग है हरियाणा- अनिल विज

 

कार्यक्रम के दौरान शहीदों को नमन करते हुए दुष्यन्त चौटाला ने कहा कि सिंघानी क्रांतिकारी वीरों की एतिहासिक भूमि है। यहां के निवासियों के वीरता के अनेक किस्से प्रचलित हैं। उन्होंने कहा कि यहां के बहादुर लोगों ने नवाबी शासन के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की और 23 लोगों ने नवाब के खिलाफ लड़ते हुए अपनी कुर्बानी दी। जिला भिवानी में सडक़ों के निर्माण पर करीब 960 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जा रही है। उन्होंने कहा कि गांवों के विकास के लिए सरकार के पास धन की कोई कमी नही है।  





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।