अधिकारी का दावा, अहमदाबाद में मई के अंत तक कोरोना के आठ लाख मरीज हो सकते हैं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 24, 2020   18:27
अधिकारी का दावा, अहमदाबाद में मई के अंत तक कोरोना के आठ लाख मरीज हो सकते हैं

अब तक गुजरात में सबसे अधिक 1,638 संक्रमण के पुष्ट मामले अहमदाबाद में सामने आए हैं। अहमदाबाद नगर निगम के आयुक्त विजय नेहरा ने एक वीडियो संदेश में कहा कि इनमें से 1,459 अब भी संक्रमित हैं और 75 मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि 105 अन्य के स्वास्थ्य में सुधार हुआ है।

अहमदाबाद। गुजरात के अहमदाबाद शहर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले चार दिन में दोगुना होने की गति बरकरार रही तो मई के अंत तक यहां कोविड-19 के करीब आठ लाख मरीज हो सकते हैं। एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। अब तक गुजरात में सबसे अधिक 1,638 संक्रमण के पुष्ट मामले अहमदाबाद में सामने आए हैं। अहमदाबाद नगर निगम के आयुक्त विजय नेहरा ने एक वीडियो संदेश में कहा कि इनमें से 1,459 अब भी संक्रमित हैं और 75 मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि 105 अन्य के स्वास्थ्य में सुधार हुआ है। 

इसे भी पढ़ें: गुजरात में कोविड-19 संकट स्वास्थ्य सेवाओं में खामियों का नतीजा: येचुरी

नेहरा ने कहा, वर्तमान में, अहमदाबाद में मामलों के दोगुना होने की दर चार दिन है, जिसका मतलब है कि हर चार दिन में मामले दोगुना हो रहे हैं। अगर यह जारी रहता है तो हमारे यहां 15 मई तक 50,000 मामले होंगे और 31 मई तक करीब आठ लाख। उन्होंने कहा, हमारा उद्देश्य इस दर को कम करके आठ दिन तक ले जाना है। यह एक बेहद मुश्किल काम होगा क्योंकि कुछ ही देश इसे हासिल कर पाए हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका और यूरोप में इस समय चार दिन में मामले दोगुना हो रहे हैं और केवल दक्षिण कोरिया ही आठ दिन में मामले दुगुना होने की दर के लक्ष्य को हासिल कर पाया है। 

इसे भी पढ़ें: पंचायती राज दिवस पर PM मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए की सीधी बात, जानें क्या कुछ कहा

नेहरा ने कहा, अगर हम दोगुना होने की दर को कम करके आठ दिन तक ले जा पाते हैं तो 15 मई तक हमारे यहां 50,000 के मुकाबले केवल 10,000 मामले होंगे। इसी तरह, 30 मई तक आठ लाख मामलों के अनुमान के विपरीत यह संख्या 50,000 तक सिमट जाएगी। जिस तरह अहमदाबाद नगर निगम कदम उठा रहा है, हमें पूरा भरोसा है कि जनता की मदद से हम यह लक्षय हासिल कर लेंगे। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...