सीएनजी पंप के तीन कर्मचारियों की धारदार हथियारों से हत्या, खंगाली जा रही सीसीटीवी कैमरे की फुटेज

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 28, 2022   11:06
सीएनजी पंप के तीन कर्मचारियों की धारदार हथियारों से हत्या, खंगाली जा रही सीसीटीवी कैमरे की फुटेज

गुरुग्राम में सीएनजी पंप के तीन कर्मचारियों की हत्या हो गई है। पुलिस ने बताया कि हमलावरों की तलाश जारी है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाली जा रही है। पुलिस को संदेह है कि हमला लूटपाट के मकसद से किया गया।

गुरुग्राम (हरियाणा)।शहर के सेक्टर-31 में एक सीएनजी पंप के तीन कर्मचारियों की रविवार देर रात कुछ लोगों ने हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि घटना रविवार देर रात करीब दो बजकर 40 मिनट की है। कुछ लोगों ने इन कर्मचारियों पर धारदार हथियारों से हमला कर दिया। मृतकों की पहचान उत्तर प्रदेश के भूपेंद्र, पुष्पेंद्र और नरेश के तौर पर हुई है। पुलिस ने बताया कि हमलावरों की तलाश जारी है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाली जा रही है। पुलिस को संदेह है कि हमला लूटपाट के मकसद से किया गया।

इसे भी पढ़ें: बोरवेल में गिरने से हुई बच्चे की मौत, 6 घंटे तक चला रेस्क्यू ऑपरेशन

हालांकि, अन्य पहलुओं को ध्यान में रखकर भी जांच की जा रही है। मामले में अभी प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है। पुलिस ने बताया कि दो शव पंप प्रबंधक के कक्ष में बरामद हुए और एक बाहर पड़ा मिला। भूपेंद्र के भाई धर्मेंद्र ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘ तड़के एक फोन आने पर मैं उठा, सीएनजी पंप पहुंचा तो मैंने अपने भाई भूपेंद्र को मृत पाया। मेरा भाई पंप पर ऑपरेटर का काम करता था।’’ उन्होंने बताया कि उनके भाई की हत्या किसने की यह अभी तक पता नहीं चल पाया है। पुलिस कर्मियों के साथ ‘फोरेंसिक’ दल और श्वान दस्ता मौके पर मौजूद है। पुलिस आयुक्त कला रामचंद्रन ने भी घटना स्थल का दौरा किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।