सांसद मनोज तिवारी ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले AAP नेताओं को कानूनी कार्रवाई की दी चेतावनी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 21, 2020   21:01
सांसद मनोज तिवारी ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले AAP नेताओं को कानूनी कार्रवाई की दी चेतावनी

उत्तरपूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले मनोज तिवारी ने आप सुप्रीमो और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर अपनी पार्टी के जरिये “झूठ” फैलाने का आरोप लगाया।

नयी दिल्ली। भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने शनिवार को भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर आम आदमी पार्टी (आप) के नेताओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है। दरअसल इससे एक दिन पहले दिल्ली में सत्ताधारी दल ने उन पर पूर्वी दिल्ली नगर निगम (ईडीएमसी) के लिये ई-कार्ट की खरीद में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में छठ पूजा को लेकर बढ़ा राजनीतिक घमासान, आप और भाजपा के बीच वाकयुद्ध 

आप के वरिष्ठ नेता और विधायक सौरभ भारद्वाज ने आरोप लगाया कि तिवारी और पूर्वी दिल्ली संसदीय सीट से पूर्व सांसद महेश गिरि ने अपनी सांसद निधि से ईडीएमसी के लिये दो साल पहले तीन गुना ज्यादा कीमत देकर 200 ई-कार्ट खरीदी थीं। उत्तरपूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व करने वाले तिवारी ने आप सुप्रीमो और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर अपनी पार्टी के जरिये “झूठ” फैलाने का आरोप लगाया। 

इसे भी पढ़ें: मनोज तिवारी का दावा, अगले चुनाव में भाजपा को ही मिलेगा जनादेश, 10 और सीटें जीतेगी पार्टी 

तिवारी ने कहा, “केजरीवाल इस बात से नाराज थे कि मैंने छठ पूजा पर प्रतिबंध को लेकर उनका पर्दाफाश कर दिया। इसलिये वो झूठ फैलाने के लिये अपने विधायक का इस्तेमाल कर रहे हैं। वे या तो आरोप साबित करें या फिर कानूनी कार्रवाई के लिये उन्हें तैयार रहना चाहिए।” भारद्वाज ने तिवारी और गिरि को चुनौती दी थी कि वे यह बताएं कि उन्होंने क्यों ज्यादा कीमत पर वाहनों की खरीद की और इस लेनदेन से किसको आर्थिक लाभ हुआ।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।