पश्चिम बंगाल उपचुनाव: तीनों सीटों पर TMC को बढ़त, भवानीपुर से ममता आगे

पश्चिम बंगाल उपचुनाव: तीनों सीटों पर TMC को बढ़त, भवानीपुर से ममता आगे

ममता बनर्जी को भाजपा की प्रियंका टिबरेवाल और माकपा के श्रीजिब बिस्वास से चुनौती मिल रही है। ताजा जानकारी के मुताबिक दूसरे राउंड की मतगणना के बाद ममता बनर्जी प्रियंका टिबरेवाल से 2500 से ज्यादा वोटों से आगे हैं।

पश्चिम बंगाल में 3 सीटों पर हुए उपचुनाव के लिए मतगणना जारी है। कड़ी सुरक्षा के बीच मतगणना सुबह 8:00 बजे शुरू हुई। जिन सीटों के लिए मतगणना हो रही है उनमें महत्वपूर्ण सीट भवानीपुर भी शामिल है। भवानीपुर के अलावा जंगीपुर और समसेरगंज विधानसभा सीटों पर भी उपचुनाव हुए थे जिसके लिए मतगणना जारी है। भवानीपुर पर सबकी निगाहें टिकी हुई है क्योंकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी यहां से उम्मीदवार हैं। ममता बनर्जी को भाजपा की प्रियंका टिबरेवाल और माकपा के श्रीजिब बिस्वास से चुनौती मिल रही है। चुनाव आयोग के आंकड़ों के अनुसार, पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी भवानीपुर विधानसभा उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल से 12,435 मतों से आगे चल रही हैं।

ममता बनर्जी इस साल की शुरुआत में हुए विधानसभा चुनाव में नंदीग्राम से चुनाव हार गई थीं। दक्षिण कोलकाता में भवानीपुर सीट पर उपचुनाव में भाजपा की प्रियंका टिबरेवाल और माकपा के श्रीजिब बिस्वास से बनर्जी का मुकाबला है। मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बने रहने के वास्ते उन्हें विधानसभा के लिए निर्वाचित होना होगा। निर्वाचन आयोग ने भवानीपुर के सखावत मेमोरियल कन्या उच्च विद्यालय में बने मतगणना केंद्र पर त्रिस्तरीय सुरक्षा के इंतजाम किए हैं, जहां केंद्रीय बलों की 24 कंपनियां भी तैनात की गई हैं। इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) स्ट्रांग रूम में आठ सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं और नतीजे 21 चरण की मतगणना के बाद घोषित किए जाएंगे। तीनों निर्वाचन क्षेत्रों में मतगणना केंद्रों के 200 मीटर के दायरे में दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। इन सीटों पर 30 सितंबर को मतदान हुआ था। 

इसे भी पढ़ें: त्योहारों को लेकर चुनाव आयोग को उपचुनाव प्रचार 10 दिन के लिए स्थगित कर देना चाहिए : ममता

निर्वाचन आयोग के अधिकारी ने कहा कि उम्मीदवार और उनके एजेंट जिन्होंने कोविड​​-19 रोधी टीकों की दोनों खुराक ली है या जांच में संक्रमण की पुष्टि नहीं है, उन्हें मतगणना स्थलों में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों और एजेंटों को कोविड​​-19 प्रोटोकॉल का पालन करने को कहा गया है। दक्षिण कोलकाता के भवानीपुर से विधानसभा चुनाव जीतने वाले राज्य के मंत्री शोभनदेब चट्टोपाध्याय ने मई में परिणाम घोषित होने के तुरंत बाद सीट खाली कर दी थी, जिससे उपचुनाव का मार्ग प्रशस्त हो गया ताकि बनर्जी यहां से चुनाव लड़ सकें। मुर्शिदाबाद जिले के जंगीपुर और समसेरगंज में एक-एक उम्मीदवार की मौत के बाद मतदान स्थगित कर दिया गया था। भवानीपुर में 57 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ। समसेरगंज और जंगीपुर में क्रमशः 79.92 प्रतिशत और 77.63 प्रतिशत मतदान हुआ।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।