तूतीकोरिन केस: लॉकडाउन उल्लंघन में गिरफ्तार पिता-पुत्र की हिरासत में मौत, CBI करेगी जांच

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 28, 2020   18:00
तूतीकोरिन केस: लॉकडाउन उल्लंघन में गिरफ्तार पिता-पुत्र की हिरासत में मौत, CBI करेगी जांच

तमिलनाडु की सरकार ने तूतीकोरिन जिले में पिता-पुत्र की मौत के मामले की जांच केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने का निर्णय किया है। दोनों की मौत कथित तौर पर पुलिस उत्पीड़न के कारण हुई थी।

सलेम (तमिलनाडु)। तमिलनाडु की सरकार ने तूतीकोरिन जिले में पिता-पुत्र की मौत के मामले की जांच केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने का निर्णय किया है। दोनों की मौत कथित तौर पर पुलिस उत्पीड़न के कारण हुई थी। यह बात रविवार को मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी ने कही। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि सरकार के निर्णय से मद्रास उच्च न्यायालय को सूचित कर दिया जाएगा और केंद्रीय एजेंसी को जांच स्थानांतरित करने से पहले उच्च न्यायालय से अनुमति ली जाएगी।

इसे भी पढ़ें: तमिलनाडु में कोरोना संक्रमण के 3,713 नए मामले आए सामने, 68 और मरीजों की मौत

पलानीस्वामी ने कहा, ‘‘सरकार ने निर्णय किया है कि सीबीआई मामले की जांच करेगी।’’ पी जयराज और उनके बेटे फेनिक्स को अपनी मोबाइल फोन की दुकान समय सीमा के बाद खोलकर लॉकडाउन के नियमों का ‘उल्लंघन’ करने के आरोप में 23 जून को गिरफ्तार किया गया था।

इसे भी पढ़ें: तमिलनाडु में 70 हजार के पार पहुंची कोरोना संक्रमितों की संख्या, अबतक 911 मरीजों की मौत

उनके रिश्तेदारों ने आरोप लगाए कि पुलिसकर्मियों ने सातनकुलम थाने में उनकी बुरी तरह की पिटाई की। इस घटना की राष्ट्रीय स्तर पर तीखी प्रतिक्रिया हुई जिसके बाद दो उपनिरीक्षकों सहित चार पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।