जम्मू कश्मीर के बारे में UN महासभा के अध्यक्ष की टिप्पणी , भारत ने किया पलटवार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 29, 2021   09:44
जम्मू कश्मीर के बारे में UN महासभा के अध्यक्ष की टिप्पणी , भारत ने किया पलटवार

भारत ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष वोल्कन बोजकिर पर जम्मू-कश्मीर पर उनकी टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को निशाना साधते हुए कहा कि उनकी ‘‘भ्रामक और पूर्वाग्रह से ग्रसित’’ टिप्पणी ‘‘उस पद को बहुत बड़ी क्षति पहुंचाती है जिस पर वह आसीन हैं।’’

नयी दिल्ली। भारत ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष वोल्कन बोजकिर पर जम्मू-कश्मीर पर उनकी टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को निशाना साधते हुए कहा कि उनकी ‘‘भ्रामक और पूर्वाग्रह से ग्रसित’’ टिप्पणी ‘‘उस पद को बहुत बड़ी क्षति पहुंचाती है जिस पर वह आसीन हैं।’’ बोजकिर ने इस्लामाबाद में बृहस्पतिवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के साथ एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि जम्मू कश्मीर के मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र में और मजबूती से लाना ‘‘पाकिस्तान का कर्तव्य है।’’

इसे भी पढ़ें: योगी की पुलिस पर किसान दंपति ने लगाए गंभीर आरोप, मारपीट करके छह लाख रुपए लूटे

विदेश मंत्रालय ने एक कड़ी प्रतिक्रिया में कहा कि उनकी टिप्पणी ‘‘अस्वीकार्य’’ है और भारत के केंद्र शासित प्रदेश को लेकर उनके द्वारा किया गया उल्लेख ‘‘अनुचित’’ है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने इस मुद्दे पर मीडिया के एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘जब संयुक्त राष्ट्र महासभा के मौजूदा अध्यक्ष भ्रामक और पूर्वाग्रह से ग्रसित टिप्पणी करते हैं, तो वह अपने पद को बहुत बड़ी क्षति पहुंचाते हैं। संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष का व्यवहार वास्तव में खेदजनक है और निश्चित रूप से वैश्विक मंच पर उनकी स्थिति को कमतर करता है।’’

इसे भी पढ़ें: केन्द्र सरकार टीकों की बर्बादी पर आंकड़े दुरुस्त करेगी, झारखंड ने दर्ज करायी थी आपत्ति

बोजकिर द्वारा उनकी हालिया पाकिस्तान यात्रा के दौरान ‘‘भारत के केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के संबंध में किए गए अनुचित उल्लेख पर कड़ा विरोध’’ व्यक्त करते हुए बागची ने कहा कि उनकी यह टिप्पणी कि ‘‘पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र में इस मुद्दे को और अधिक मजबूती से उठाने के लिए ‘‘कर्तव्यबद्ध’’ है, अस्वीकार्य है। और वास्तव में ना ही अन्य वैश्विक स्थितियों की तुलना का कोई आधार है।’’ बोजकिर, कुरैशी के निमंत्रण पर तीन दिवसीय आधिकारिक यात्रा पर बुधवार को पाकिस्तान पहुंचे थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।