UPA सरकार ने सुरक्षा से समझौता किया था: प्रकाश जावड़ेकर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 26, 2018   20:24
UPA सरकार ने सुरक्षा से समझौता किया था: प्रकाश जावड़ेकर

जावड़ेकर ने यहां संवाददाताओं से कहा कि संप्रग की सरकार ने मजहबी राजनीति के कारण सुरक्षा से समझौता किया जिससे आतंकवादियों को पनाह मिली।

जयपुर। केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री व भाजपा के प्रदेश चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को कहा कि संप्रग सरकार की पहचान बम धमाके थे और संप्रग के 10 वर्ष के शासनकाल में 50 से अधिक स्थानों पर बम विस्फोट हुए जिनमें 1400 से भी अधिक लोगों को जान गंवानी पड़ी तथा 4,000 से अधिक लोग घायल हुए।

जावड़ेकर ने यहां संवाददाताओं से कहा कि संप्रग की सरकार ने मजहबी राजनीति के कारण सुरक्षा से समझौता किया जिससे आतंकवादियों को पनाह मिली। उन्होंने कहा- संप्रग की सरकार कमजोर सरकार थी। मोदी सरकार के कार्यकाल में बम विस्फोटों की घटनाओं पर रोक लगी है।

मुंबई में 26/11 के हमले में जान गंवाने वालों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने आतंकवादियों के नेटवर्क को समाप्त किया है। उनको धन देने वालों पर जबरदस्त प्रहार किया है।

जावड़ेकर के अनुसार संप्रग सरकार के गृह मंत्री ने जयपुर में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की बैठक में हिन्दू आतंकवाद का जिक्र किया तथा अमेरिकी अधिकारियों के सामने राहुल गांधी ने मुस्लिम आतंकवाद से अधिक खतरनाक हिन्दू आतंकवाद को बताया था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...