वाड्रा ने प्रधानमंत्री मोदी से कहा: मेरे खिलाफ व्यक्तिगत हमले करना बंद करें

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 8 2019 5:31PM
वाड्रा ने प्रधानमंत्री मोदी से कहा: मेरे खिलाफ व्यक्तिगत हमले करना बंद करें
Image Source: Google

उन्होंने कहा कि मुझे आपकी सरकार से पिछले पांच वर्षों में उत्पीड़न का सामना करना पड़ा है। विभिन्न एजेंसियों, अदालतों और कर विभागों से लगातार नोटिस, बस मुझ पर मानसिक रूप से दबाव डालने के लिए है।

नयी दिल्ली। कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर उनके खिलाफ व्यक्तिगत हमले करने के बुधवार को आरोप लगाये और कहा कि देश के सामने मौजूद ‘‘ज्वलंत’ मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए उनके खिलाफ आरोप लगाये जा रहे है। हरियाणा के कुरूक्षेत्र में आयोजित एक रैली में मोदी द्वारा भूमि सौदा मामले में कथित भ्रष्टाचार का जिक्र किये जाने के तुरन्त बाद वाड्रा ने ट्विटर और फेसबुक पर कहा कि पिछले पांच वर्षों में उन्हें मोदी सरकार के हाथों ‘‘उत्पीड़न का सामना’’ करना पड़ा है और प्रधानमंत्री अपनी टिप्पणियों से न्यायपालिका का ‘‘अपमान’’ कर रहे है कि वह उन्हें जेल भेज देंगे। मोदी ने रैली में बिना किसी का नाम लिये कहा था, ‘‘यह चौकीदार दिल्ली और हरियाणा में किसानों की जमीन लूटने वाले भ्रष्ट लोगों को बख्शेगा नहीं। जो राजाओं की तरह व्यवहार करते थे, उन्हें ईडी और अदालतों के चक्कर लगाने पड़ रहे है। आपके आशीर्वाद से किसानों के साथ न्याय होगा और भ्रष्ट लोगों को जेल की सलाखों के पीछे डाला जायेगा।’’

भाजपा को जिताए

वाड्रा ने मोदी के बयान को लेकर ट्विटर पर उन पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘कृपया मेरे खिलाफ व्यक्तिगत हमले करना बंद करें। इस तरह की टिप्पणियां करके, आप हमारी सम्माननीय न्यायिक प्रणाली का अपमान करते हैं। मुझे भारतीय न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है और सच्चाई की जीत होगी। ईश्वर देश को बचाएं।’’ प्रधानमंत्री को संबोधित एक फेसबुक पोस्ट में वाड्रा ने कहा, ‘‘मैं आपकी रैली में फिर से अपना नाम सुनकर हैरान हूं। गरीबी, बेरोजगारी, महिला सशक्तिकरण आदि जैसे ज्वलंत मुद्दे हैं, जो आपके सामने खड़े हैं, लेकिन आपने सब चीजों को छोड़कर मेरे बारे में बात करना चुना है।’’
उन्होंने कहा कि मुझे आपकी सरकार से पिछले पांच वर्षों में उत्पीड़न का सामना करना पड़ा है। विभिन्न एजेंसियों, अदालतों और कर विभागों से लगातार नोटिस, बस मुझ पर मानसिक रूप से दबाव डालने के लिए है। वाड्रा ने कहा, ‘‘देश के विभिन्न हिस्सों में प्रवर्तन निदेशालय ने आठ से 11 घंटे पूछताछ के लिए 11 बार मुझे बुलाया, अदालत में बयान और संबंधित आदेश आदि। लेकिन एक भी आरोप साबित नहीं हुआ है।’’ उन्होंने कहा कि वह आश्चर्यचकित है कि ‘‘वह बार-बार मेरा नाम लेकर क्या हासिल करना चाहते हैं।’’ वाड्रा ने आरोप लगाया, ‘‘देश जानता है कि मेरा नाम बार-बार चुनावों में आपकी सरकार की विफलताओं और खुद के कुकृत्यों से लोगों का ध्यान हटाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।’’


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video