MEA ने की भारतीयों से अपील, कहा- सभी पश्चिमी यूक्रेन की तरफ जाएं, बॉर्डर पर बहुत भीड़ है

MEA ने की भारतीयों से अपील, कहा- सभी पश्चिमी यूक्रेन की तरफ जाएं, बॉर्डर पर बहुत भीड़ है
प्रतिरूप फोटो

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया कि हम सभी भारतीय नागरिक और छात्रों से आग्रह करते हैं कि आप पश्चिमी यूक्रेन की तरफ जाएं। आप वहां पर सीधे बॉर्डर की तरफ़ ना जाए। बॉर्डर पर बहुत भीड़ है। हम अनुरोध करते हैं आप नज़दीकी शहर में जाए। आप वहां पर रुके हमारी टीमें वहां पर मदद करेंगी।

नयी दिल्ली। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध छिड़ा हुआ है। इसी बीच भारत सरकार ने यूक्रेन से भारतीयों को निकालने के लिए ऑपरेशन गंगा को तेज कर दिया। विदेश मंत्रालय ने सोमवार को बताया कि अब तक लगभग 1,400 भारतीय नागरिकों को लेकर 6 उड़ानें भारत आ चुकी हैं। बुखारेस्ट (रोमानिया) से चार उड़ानें और बुडापेस्ट (हंगरी) से दो उड़ानें आई हैं। 

इसे भी पढ़ें: क्या टैंकों पर लिखे 'Z' में छुपी है पुतिन की रणनीति? जानें रूसी सेना के वाहनों पर बने खास निशान का मतलब 

पश्चिमी यूक्रेन की तरफ जाएं भारतीय

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया कि हम सभी भारतीय नागरिक और छात्रों से आग्रह करते हैं कि आप पश्चिमी यूक्रेन की तरफ जाएं। आप वहां पर सीधे बॉर्डर की तरफ़ ना जाए। बॉर्डर पर बहुत भीड़ है। हम अनुरोध करते हैं आप नज़दीकी शहर में जाए। आप वहां पर रुके हमारी टीमें वहां पर मदद करेंगी।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बताया कि हमारे पास मोल्दोवा के माध्यम से एक नया मार्ग है, यह अब शुरू हो गया है। हमारी टीम आपकी सहायता करेगी। हमारी टीमें रोमानिया के माध्यम से भारतीयों को निकालने में सहायता करेंगी। 

इसे भी पढ़ें: यूक्रेन से भारतीय छात्रों को निकालने की योजना जल्द सार्वजनिक करे सरकार: कांग्रेस 

आपको बता दें कि यूक्रेन से भारतीयों को निकालने के संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार की सुबह हाई लेवल मीटिंग की अध्यक्षता की थी। जिसको लेकर खबर सामने आई थी कि केंद्र सरकार के 4 मंत्री यूक्रेन के बॉर्डर राज्य जाएंगे। इसी संबंध में अरिंदम बागची ने बताया कि यूक्रेन बॉर्डर से लगे 4 देशों में हमने विशेष दूत तैनात करने का निर्णय लिया है।

उन्होंने बताया कि केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया रोमानिया जाएंगे, किरेन रिजिजू स्लोवाक गणराज्य जाएंगे, हरदीप सिंह पुरी हंगरी जाएंगे, वीके सिंह पोलैंड जाएंगे। उन्होंने बताया कि केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया मोल्दोवा में निकासी प्रक्रिया की भी देखरेख करेंगे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।