भारत में कब खत्म होगा कोरोना का पीक ? रांची के स्वास्थ्य विशेषज्ञ बोले- हमें दूसरी लहर को नहीं भूलना चाहिए

भारत में कब खत्म होगा कोरोना का पीक ? रांची के स्वास्थ्य विशेषज्ञ बोले- हमें दूसरी लहर को नहीं भूलना चाहिए
प्रतिरूप फोटो

झारखंड की राजधानी रांची के सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ का कहना है कि कोरोना के पीक को खत्म होने में फरवरी-मार्च तक का समय लग सकता है इसलिए हमें सतर्क रहना जरूरी है। हमें दूसरी लहर को नहीं भूलना है क्योंकि पिछली बार भी हमने देखा था कि होली के समय ही कोरोना की लहर तेज हुई थी।

नयी दिल्ली। चीन के वुहान शहर से निकले वायरस से दुनिया का लगभग हर एक देश प्रभावित हुआ है और भारत तो तीसरी लहर का सामना कर रहा है। ऐसे में कई राज्यों ने पाबंदियां लगाई हैं तो कुछ ने मामलों में कमी आने के बाद प्रतिबंधों में ढील दिया है। इसी बीच सबसे अहम सवाल यह उठ रहा है कि कोरोना का पीक कब खत्म होगा ? इस पर स्वास्थ्य विशेषज्ञों की तरह-तरह की टिप्पणी सामने आ रही है। इसी बीच झारखंड के सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ का दावा है कि हमें सतर्क रहना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना के नए वेरिएंट Neocov ने डराया, वैज्ञानिकों का दावा- हर 3 मरीज में से 1 की होगी मौत, क्या ये लाएगा चौथी लहर? 

क्या कोरोना से मिलेगी आजादी ?

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, झारखंड की राजधानी रांची के सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ का कहना है कि कोरोना के पीक को खत्म होने में फरवरी-मार्च तक का समय लग सकता है इसलिए हमें सतर्क रहना जरूरी है। हमें दूसरी लहर को नहीं भूलना है क्योंकि पिछली बार भी हमने देखा था कि होली के समय ही कोरोना की लहर तेज हुई थी लेकिन इस बार इसकी संभावना कम है। उन्होंने कहा कि दो महीने सचेत रहने की जरूरत है, हो सकता है कि आने वाले 2-3 महीनों में हम कोरोना से ही आज़ादी जाए। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना के खतरे को देखते हुए J&K की सबसे बड़ी अनाज मंडी में स्वैच्छिक वीकेंड लॉकडाउन

देश में कोरोना के 2,51,209 नए मामले दर्ज

देश में एक दिन में कोरोना के 2,51,209 नए मामले दर्ज किए गए हैं। जिसके बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4,06,22,709 हो गई। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में 627 और लोगों की संक्रमण से मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,92,327 हो गई। देश में अभी 21,05,611 लोगों का इलाज चल रहा है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 5.18 फीसदी है। पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के एक्टिव मरीजों की संख्या में 96,861 कमी दर्ज की गई है। देश में मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 93.60 प्रतिशत है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।