मोदी सरकार पर बरसे हिरासत में लिए गए राहुल गांधी, बोले- देश के राजा का हुक्म है, जो सवाल पूछे उसे कारागृह में डाल दो

Rahul Gandhi
ANI Image
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा कि देश के ‘राजा’ का हुक्म है - जो बेरोज़गारी, महंगाई, गलत जीएसटी, अग्निपथ पर सवाल पूछेगा - उसे कारागृह में डाल दो। भले ही मैं अभी हिरासत में हूं, भले ही देश में अब जनता की आवाज़ उठाना जुर्म हो, लेकिन वो हमारा हौसला कभी नहीं तोड़ पाएंगे।

नयी दिल्ली। नेशनल हेराल्ड मामले को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्षा सोनिया गांधी से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) मंगलवार को दूसरे दौर की पूछताछ कर रहा है। इसी बीच हिरासत में लिए गए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड सांसद राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। आपको बता दें कि राहुल गांधी समेत कांग्रेस के तमाम नेता और कार्यकर्ता ईडी के कार्रवाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच राहुल गांधी ने कहा कि देश के राजा का हुक्म है- जो बेरोज़गारी, महंगाई, गलत जीएसटी, अग्निपथ पर सवाल पूछेगा- उसे कारागृह में डाल दो।

इसे भी पढ़ें: Lok Sabha सदस्यों के बाद RS के 19 विपक्षी सांसदों पर गिरी गाज, नहीं थम रहा गतिरोध 

कांग्रेस सांसद ने अपने आधिकारिक सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर के माध्यम से केंद्र पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट में लिखा कि देश के ‘राजा’ का हुक्म है - जो बेरोज़गारी, महंगाई, गलत जीएसटी, अग्निपथ पर सवाल पूछेगा - उसे कारागृह में डाल दो। भले ही मैं अभी हिरासत में हूं, भले ही देश में अब जनता की आवाज़ उठाना जुर्म हो, लेकिन वो हमारा हौसला कभी नहीं तोड़ पाएंगे। आपको बता दें कि हिरासत में लिए जाने से पहले राहुल गांधी ने आरोप लगाया था कि मोदी जी राजा हैं और भारत में पुलिस राज है।

इससे पहले राहुल गांधी ने ट्वीट किया था कि तानाशाही देखिए, शांतिपूर्ण प्रदर्शन नहीं कर सकते, महंगाई और बेरोज़गारी पर चर्चा नहीं कर सकते। पुलिस और एजेंसियों का दुरूपयोग करके, हमें गिरफ़्तार करके भी, कभी चुप नहीं करा पाओगे। 'सत्य' ही इस तानाशाही का अंत करेगा।

इसे भी पढ़ें: सोनिया गांधी से पूछताछ के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, हिरासत में लिए गए राहुल गांधी 

राहुल गांधी और कांग्रेस के अन्य नेताओं को हिरासत में लेकर किंग्सवे पुलिस कैंप में रखा गया। जहां पर पार्टी के तकरीबन 50 सांसद भी मौजूद हैं और इन तमाम सांसदों ने मिलकर किंग्सवे पुलिस कैंप में ही एक बैठक की। इसका एक वीडियो सामने आया। जिसमें कहा गया कि पुलिस हिरासत केंद्र को कांग्रेस संसदीय दल के विचार-मंथन सत्र में परिवर्तित कर दिया गया और हिरासत में लिए गए नेता आपस में महंगाई, जीएसटी, अग्निपथ जैसे मुद्दों पर चर्चा करने लगे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़